जाकिर मूसा की मौत को लेकर कश्मीर में तनाव , स्कूल कालेज बंद और हाईवे बंद

0
41

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में अंसार गजवातुल हिंद के सरगना जाकिर मूसा के मारे जाने के बाद हुई हिंसा के मद्देनजर शुक्रवार को श्रीनगर में एहतियातन कर्फ्यू लगा दिया गया है और कश्मीर घाटी के प्रमुख शहरों और तहसील मुख्यालयों में भी इसी तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं। अधिकारियों ने एहतियात के तौर पर कश्मीर घाटी में ट्रेन और मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी है और सभी शैक्षणिक संस्थनों को बंद करने के आदेश भी दिए हैं। लोगों को चेतावनी दी जा रही है कि किसी भी तरह के उल्लंघन पर सख्त कारर्वाई की जाएगी। इस बीच, बुलेट प्रूफ जैकेट, लेग गार्ड पहने और हाथों में हथियार लिए बड़ी संख्या में राज्य पुलिस कर्मी और सुरक्षा बल के जवान सुनसान सड़कों पर पहरा दे रहे हैं।

मोस्ट वांटेड आतंकी जाकिर मूसा ढेर
कश्मीर में सेना ने कल आतंकियों के खिलाफ  एक बड़ी कार्रवाई करते हुए मोस्ट वांटेड आतंकी जाकिर मूसा को मार गिराया। आतंकी संगठन अंसार गजावत-उल-हिंद के चीफ जाकिर मूसा को पुलवामा के उसी इलाके में मार गिराया गया है, जहां साल 2016 में सेना ने हिजबुल के कमांडर बुरहान वानी को ढेर किया था। सूत्रों के अनुसार कश्मीर में सेना को गुरुवार दोपहर को पुलवामा के त्राल में जाकिर मूसा के मौजूद होने की जानकारी मिली थी। इस सूचना पर सेना की 42 राष्ट्रीय राइफ ल्स, जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पैशल ऑप्रेशन ग्रुप और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने यहां पर बड़ा सर्च ऑप्रेेशन शुरू किया। इस दौरान जाकिर मूसा के ठिकाने की घेराबंदी कर सेना के अधिकारियों ने उसे सरैंडर करने के लिए कहा, जिस पर मूसा ने सेना के अधिकारियों पर ग्रेनेड से हमला कर भागने की कोशिश की।

काफी समय से सेना कर रही थी तलाश
इसके बाद सेना ने बड़ा काऊंटर ऑप्रेशन शुरू करते हुए इलाके में सख्त घेराबंदी की और फिर भारी गोलीबारी करते हुए मूसा को उसी मकान में मार गिराया, जहां उसने पनाह ली थी। बता दें कि जाकिर मूसा को कश्मीर में आतंक का पोस्टर ब्वॉय कहा जाता था और एजैंसियों के अधिकारी काफी समय से उसकी तलाश कर रहे थे। बीते दिनों कश्मीर में तमाम आतंकियों के जनाजे में मूसा के समर्थन में नारे लगाने की बात भी सामने आई थी, लेकिन गुरुवार शाम को सेना ने घाटी में आतंक के इस खूंखार चेहरे का भी अंत कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here