CM के बेटे नकुलनाथ को बड़ा झटका, IMT की जमीन का आवंटन निरस्त

0
102

भोपाल: देश के नामी संस्थानों में शुमार इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट टेक्नोलॉजी (आइएमटी) की जमीन का आवंटन निरस्त कर दिया गया है। आइएमटी पर अवैध रूप से जमीन कब्जाने का आरोप भाजपा नेता राजेंद्र त्यागी ने लगाया था। इस मामले में सीएम और राज्यपाल से शिकायत की गई थी। जिसके बाद गाजियाबाद डेवलपमेंट अथॉरिटी (जीडीए) की वाइस प्रेसीडेंट कंचन वर्मा ने जांच समिति के फैसले पर मुहर लगा दी है। वहीं, प्रवर्तन विभाग को जमीन पर कब्जा लेने और जमीन पर बने हॉस्टल को तोड़ने का निर्देश भी जारी कर दिए गए है।

आईएमटी संस्थान के प्रेसीडेंट मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के बेटे बकुल नाथ हैंगाजियाबाद के राजनगर स्थित आइएमटी परिसर में जमीन पर अवैध कब्जे का आरोप लगाकर भाजपा पार्षद राजेंद्र त्यागी ने राज्यपाल और सीएम से शिकायत की थी। शिकायत में गया था कि 1968 में गाजियाबाद इंप्रूवमेंट ट्रस्ट ने लाजपत राय कॉलेज के लिए वहां 54049.25 वर्ग गज जमीन आवंटित की गई थी। गाजियाबाद इंप्रूवमेंट ट्रस्ट अब गाजियाबाद विकास प्राधिकरण है। आवंटन के समय से ही 10841 वर्ग मीटर जमीन पर विवाद चल रहा था। कोर्ट से स्टे था, जो 1977 में खारिज हो गया। आरोप है कि गलत तरीके से जमीन पर आइएमटी कॉलेज का निर्माण किया गया। जीडीए सचिव संतोष राय की अध्यक्षता में पूरे मामले की जांच कराई गई। जीडीए वीसी कंचन वर्मा ने बताया कि जांच को सही मानते हुए आवंटन निरस्त कर दिया गया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here