शराब पीकर वाहन चलाने वालों की खैर नहीं, दुर्घटना में मृत्यु हुई तो अब दर्ज होगा गैर इरादतन हत्या का प्रकरण

0
123

पुलिस मुख्यालय, मध्यप्रदेश
जनसम्पर्क कक्ष
समाचार👉
शराब पीकर वाहन चलाने वालों की खैर नहीं, दुर्घटना में मृत्यु हुई तो अब दर्ज होगा गैर इरादतन हत्या का प्रकरण

सभी पुलिस अधीक्षकों को परिपत्र के जरिये दिशा निर्देश जारी

भोपाल, 29 मई 2019/ सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों को रोकने के संबंध में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ द्वारा दिए गए निर्देशों के परिपालन में पुलिस मुख्यालय की पीटीआरआई शाखा ने एक अहम परिपत्र जारी किया है । प्रदेश में अब शराब पीकर वाहन चलाने वालों की खैर नहीं हैं । शराब पीकर वाहन चलाने की वजह से हुई सड़क दुर्घटना में यदि किसी की मृत्यु होती है, तो वाहन चालक के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा-304 के तहत गैर इरादतन हत्या का प्रकरण दर्ज होगा, जिससे वाहन चालक की पुलिस थाना में जमानत नहीं हो सकेगी ।

पुलिस महानिदेशक श्री विजय कुमार सिंह के अनुमोदन के बाद विशेष पुलिस महानिदेशक पीटीआरआई श्री पुरुषोत्तम शर्मा ने भोपाल एवं इन्दौर के उप पुलिस महानिरीक्षकों सहित प्रदेश के सभी पुलिस अधीक्षकों को परिपत्र के जरिये इस संबंध में स्पष्ट निर्देश जारी कर दिए हैं । साथ ही सभी रेंजों के पुलिस महानिरीक्षकों से इन निर्देशों का पालन कराने की हिदायत दी है।

विशेष पुलिस महानिदेशक श्री पुरुषोत्तम शर्मा ने बताया कि सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए गए हैं कि सड़क दुर्घटना होने पर वाहन चालक का अनिवार्यतः मेडीकल परीक्षण कराया जाए । विवचेना अधिकारी को वाहन चालक की मेडीकल रिपोर्ट केस डायरी के साथ प्रस्तुत करनी होगी । उन्होंने स्पष्ट किया है कि वाहन चालक का मेडीकल करने वाले चिकित्सा अधिकारी से इस आशय की टीप भी अवश्य ली लाए कि वाहन चालक के शरीर में एल्कोहल की कितनी मात्रा है । मेडीकल रिपोर्ट में यह साबित होने पर कि वाहन चालक द्वारा शराब पिए होने की वजह से वाहन दुर्घटना में मृत्यु हुई है तो अन्वेषण अधिकरी अपने स्व-विवेक से पीड़ित के पक्ष में भारतीय दंड विधान की धारा 304 के तहत कार्रवाई करे, अर्थात वाहन चालक के खिलाफ गैर इरादतन हत्‍या का प्रकरण दर्ज किया जाए, जिससे पुलिस के प्रति आम जनता का विश्वास बढ़े। साथ ही आरोपी को जमानत न मिल पाए ।

विशेष पुलिस महानिदेशक श्री शर्मा ने बताया कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय की सड़क सुरक्षा समिति के निर्देशों के पालन में प्रदेश में सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यों में इस साल 10 प्रतिशत की कमी लाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है ।

ज्ञात हो प्रदेश में नई सरकार का गठन होते ही मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों पर विशेष चिन्ता जताई थी । उन्होंने पदभार ग्रहण करने के बाद पुलिस को निर्देश दिए थे कि कारगर रणनीति बनाकर सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाएं । खासकर सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यु पर अकुंश लगाने पर उन्होंने विशेष जोर दिया था । मुख्यमंत्री के निर्देशों पर मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा तेजी से अमल शुरु कर दिया गया है ।

शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ जून माह में चलेगा विशेष अभियान

विशेष पुलिस महानिदेशक श्री पुरुषोत्तम शर्मा ने बताया कि जून माह के दौरान विशेष अभियान चलाकर शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी । इस संबंध में प्रदेश के सभी पुलिस अधीक्षकों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here