हैदराबाद गैंगरेप: एक ही जेल की अलग-अलग बैरकों बंद किए गए दरिंदे, पुलिस की कड़ी नजर

0
22

हैदराबाद: हैदराबाद में 25 वर्षीय महिला पशु चिकित्सक के सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड के चार आरोपियों को चेरापल्ली केन्द्रीय कारागार में कड़ी सुरक्षा वाली कोठरियों में एकांतवास में रखा गया है। साथ ही उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कड़ी निगरानी रखी जा रही है। जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। लॉरी में काम करने वाले 20 से 24 साल के चार आरोपियों को बीते सप्ताह यहां पास ही में कथित रूप से एक महिला से बलात्कार और हत्या के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था। शनिवार को उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

अधिकारी ने उन्हें कड़ी सुरक्षा वाली कोठरियों में अलग-अलग रखा गया है। हम इन चारों पर कड़ी नजर रख रहे हैं ताकि वे अपने आप को कुछ (चोट मारना) न कर बैठें या फिर इस जघन्य अपराध के लिए अन्य कैदी उनपर हमला न कर दें। बताया जा रहा है कि चारों आरोपी बचपन के दोस्त हैं। एक आरोपी मोहम्मद आरिफ ट्रक ड्राइवर है, बाकी तीनों क्लीनर हैं। पुलिस के मुताबिक 27 नवंबर की रात को चारों महिला डॉक्टर का इंतजार करते रहे और जब वे आई तो ट्रक ड्राइवर और उसके साथियों ने उसे अगवा कर लिया।

आरोपी पीड़िता को सुनसान जगह पर ले गए और उसे जबरन शराब पिलाई और गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया। एक आरोपी ने पीड़िता का मुंह और नाक दबा और बाकियों ने बारी-बारी से महिला के साथ कुकर्म किया। आरोपियों ने सारी हदें तब पार कर दी जब उन्होंने पीड़िता को 27 किलोमीटर दूर ले जाकर पेट्रोल डालकर उसे जला दिया। शव के पास ही पीड़िता का फोन, घड़ी सबकुछ छिपा दिया और वहां से फरार हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here