हैदराबाद गैंगरेपः सीन रिक्रिएट करने के लिए NH-44 पर आरोपियों को ले गई थी पुलिस, भागने की कोशिश में एनकाउंटर

0
72

हैदराबादः हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस में पुलिस ने चारों आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया गया है। हैदराबाद पुलिस चारों आरोपियों को नेशनल हाईवे-44 पर क्राइम सीन रिक्रिएट कराने के लिए लेकर गई थी। पुलिस ने जैसे ही चारों आरोपियों को वैन से नीचे उतारा तो इस केस का जो प्रमुख आरोपी था उसने अन्य तीन आरोपियों को भागने का इशारा किया। पुलिस ने चारों को रूकने की चेतावनी भी दी लेकिन जब वे नहीं रूके तो पुलिस ने उनको भी मार गिराया। पुलिस के मुताबिक वे आरोपियों से 27 और 28 नवंबर की दरमियानी रात को जो हुआ उसके बारे में सब जानना चाहती थी इसलिए उनको मौका-ए वारदात की जगह पर ले जाया गया।

आरोपियों ने जलाया था महिला डॉक्टर का शव
27-28 नवंबर की दरम्यानी रात को चारों आरोपियों ने महिला डॉक्टर की पहली स्कूटी पंक्चर की और फिर मदद के नाम पर उसके साथ गैंगरेप किया। महिला डॉक्टर की कोई आवाज सुन ले इसके लिए एक आरोपी ने उसका मुंह बंद कर दिया था। सासं घुटने की वजह से उसकी मौत हो गई। बाद में दरिंदों ने डॉक्टर को नेशनल हाइवे-44 पर अंडरपास के पास जला दिया था। इस घटना ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था। हालांकि पुलिस ने चारों आरोपियों को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया था और सभी पुलिस रिमांड में थे।

ऐसे हुआ एनकाउंटर
शादनगर कोर्ट ने बुधवार को चारों आरोपियों को 7 दिन की पुलिस रिमांड दी थी, इसके बाद पुलिस ने गुरुवार को पूछताछ की। गुरुवार रात ही पुलिस आरोपियों को लेकर क्राइम सीन पर ले गई। यहां पर क्राइम सीन रिक्रिएट करने की कोशिश की गई। तभी आरोपी पुलिस को चकमा देकर भागने ही लगे थे कि पुलिस ने उनको वहीं मार गिराया। पुलिस ने कहा कि अगर हम फायरिंग न करते तो आरोपी मौके से फरार हो जाते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here