हैदराबाद: दरिंदो के एनकाउंटर पर बोलीं निर्भया की मां-पुलिस का धन्यवाद, आरोपी इसी लायक थे

0
32

नई दिल्लीः तेलंगाना में महिला पशु-चिकित्सक के साथ दुष्कर्म एवं हत्या मामले के सभी चारों आरोपी शुक्रवार तड़के साइबराबाद पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए। वहीं हैदराबाद पुलिस के इस काम की लोग काफी प्रशंसा कर रहे हैं। लोग हैदराबाद पुलिस जिंदाबाद के नारे लगा रही है। वहीं इस घटनाक्रम पर निर्भया की मां आशा देवी की भी प्रतिक्रिया आई है। निर्भया की मां ने कहा कि एनकाउंटर पूरी तरह जायज था। उन्होंने कहा कि चारों आरोपी इसी लायक थे क्योंकि उन लोगों ने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया था।

आशा देवी ने कहा कि हैदराबाद पुलिस तारीफ की हकदार है और मैं उनका शुक्रिया अदा करती हूं। उन्होंने कि चारों आरोपियों के दिमाग में कितना जुर्म भरा हुआ था कि उन्होंने पुलिस पर हमला करके भागने की कोशिश की। उन्होंने कि आज हैदराबाद की बच्ची को इमसाफ मिल गया। उन्होंने कहा कि मैं बी सात साल से अपनी निर्भया के आरोपियों को सजा दिलाने के लिए लड़ रही हूं पर अभी तक उनको फांसी नहीं दी गई। आशा देवी ने कहा कि जिस दिन उन आरोपियों को भी सजा मिलेगी तब हमें लगेगा हमारी बेटी को भी इंसाफ मिल गया।

गौरतलब है कि 2012 में राजधानी दिल्ली में निर्भया के साथ जो हादसा हुआ था, उसके आरोपियों को फांसी की सज़ा हुई थी लेकिन अभी तक फांसी नहीं दी गई है। 16 दिसंबर को इस घटना को 7 साल पूरे हो रहे हैं, लेकिन अभी तक आरोपियों को फांसी होनी बाकी है। बता दें कि हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों की पहचान मोहम्मद अरीफ, नवीन, शिव और चेन्नाकेसवुलु के रूप में हुई थी। पुलिस ने दावा किया कि क्राइम सीन को रिक्रिएट करने के लिए चारों आरोपियों को हैदराबाद के बाहरी क्षेत्र शादनगर के समीप चटनपल्ली ले जाया गया था। इस दौरान चारों आरोपियों ने भागने की कोशिश और फिर पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ उस स्थान से कुछ ही दूरी पर हुई जहां महिला पशु-चिकित्सक को जलाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here