मारे गए हैदराबाद कांड के चारों आरोपी, कानून मंत्री बोले- भगवान ने किया न्याय

0
51

भोपाल: हैदराबाद में युवती के साथ दुष्कर्म और जलाकर मारने के मामले के सभी चारों आरोपियों को आज पुलिस मुठभेड़ में मार गिराने की घटना पर तेलंगाना के कानून मंत्री इंद्रकरण रेड्डी ने भगवान का न्याय बताया है। उन्होंने अपने राज्य की पुलिस की पीठ थपथपाते हुए कहा कि आरोपियों ने भागने की कोशिश की थी तो उन्हें मार गिराया गया।  इस मामलें में सपा सांसद जया बच्चन ने कहा, देर आए दुरुस्त आए

उमा भारती
बीजेपी उपाध्यक्ष उमा भारती ने कहा कि अभी सवेरे समाचार सुना कि भागने की कोशिश में चारों अपराधी पुलिस एनकाउंटर में मारे गए। इस सदी के 19 वें साल में महिलाओं को सुरक्षा की गारंटी देने वाली यह सबसे बड़ी घटना है। इस घटना को अंजाम देने वाले सभी पुलिस अधिकारी एवं पुलिसकर्मी अभिनंदन के पात्र हैं।

अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने एनकाउंटर पर लोग खुशी और संतोष जाहिर कर रहे हैं। लेकिन यह चिंता की भी बात है कि लोगों का क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम से भरोसा उठ गया है। इस बारे में सभी सरकारों को मिलकर चिंतन करना होगा।

मायावती 
यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि यूपी में महिलाओं के खिलाफ अपराध बढ़ रहे हैं। लेकिन प्रदेश सरकार सो रही है। यूपी और दिल्ली पुलिस को हैदराबाद पुलिस से सीखना चाहिए। दुर्भाग्यपूर्ण है कि यहां उन्हें मेहमानों की तरह देखा जाता है क्योंकि यूपी में फिलहाल जंगलराज है।

बाबा रामदेव ने कहा कि बलात्कारी और आतंकवादियों के खिलाफ पुलिस, सेना और अर्धसैनिक बलों को ऐसी ही कार्रवाई करनी चाहिए। ऑन द स्पॉट फैसला होना चाहिए। इस तरह के खूंखार अपराधियों के साथ ऐसा ही सलूक होना चाहिए।

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा कि हैदराबाद में जो कुछ भी हुआ उससे आज देश की जनता में संतोष है।  लोगों में खुशी है कि उन चारों दरिंदों जिन्होंने हैवानियत की थी उनको पुलिस ने मार गिराया है।

शिवराज सिंह चौहान
वहीं भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जो जस कीन तो तस फल चाखौं। चौहान ने अपने ट्वीट में कहा कि हैदराबाद में नरपिशाचों को उनके पाप की सजा मिली। पूरे देश को बड़ा सुकून मिला। दुष्टों के साथ यही व्यवहार होना चाहिए। चौहान ने अपना एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि इस मुठभेड़ के बाद पूरे देश ने चैन की सांस ली है। आरोपियों ने निर्दयता से बेटी को जिंदा जलाकर मार डाला था। उन्होंने कहा कि मुठभेड़ पर सवाल उठाने वालों को बेटी के साथ हुई घटना को लेकर पहले सोचना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here