यूरिया की किल्लत को लेकर किसान ने गाया ‘ओ यूरिया ओ यूरिया’

0
59

भोपाल: प्रदेश में यूरिया की धीमी वितरण प्रक्रिया को लेकर प्रदेश किसान परेशान हैं और वहीं विपक्ष प्रदेश भर में सरकार के खिलाफ यूरिया को लेकर प्रदर्शन कर रहा है। इसी बीच यूरिया न मिलने से परेशान किसान ने अपना दर्द बयान करते हुए एक गाना ‘ओ यूरिया ओ यूरिया’ गाया है। किसान का यह विडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

दरअसल, भोपाल के विरहा श्याम खेड़ी गांव का रहने वाला किसान बीएम पाल ने यूरिया पर एक गीत गाया है। गाने के बोल ‘ओ साहिबा ओ साहिबा’ हिंदी फिल्म के गाने की तर्ज पर हैं। किसान के परिवार के पास 7 एकड़ जमीन है, जिसके लिए लगभग 20 बोरी यूरिया की आवश्यकता है। लेकिन उसे अभी तक सिर्फ पांच बोरी ही यूरिया मिली है। किसान के परिवार में 7 लोग हैं जो इस जमीन पर निर्भर हैं। किसान की मानो तो अगर उसकी फसल को यूरिया नहीं मिली तो फसल पैदा नहीं होगी और फसल पैदा नहीं होगी तो पूरे परिवार पर संकट मंडरा जाएगा।
बता दें कि, इससे पहले एक किसान ने सोयाबीन को लेकर “सोयाबीन मेरे प्यारे सोयाबीन” गाना गाया था जो लोगों ने बहुत पंसद किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here