हैदराबाद एनकाउंटर का खली ने किया विरोध, पुलिस को दी यह नसीहत

0
18

यमुनानगर: हैदराबाद में हुए पशु चिकित्सक डॉक्टर के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के चारों आरोपियों को एनकाउंटर में ढेर करने पर रेसलर द ग्रेट खली ने विरोध किया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने अरापेयिों को एनकाउंटर में मारकर कानून हाथ में लिया, कानून हाथ में लेने का किसी को कोई अधिकार नही है। रेप जैसा घिनौना अपराध करने वाले दोषियों को सजा मिले, लेकिन वह कानून के दायरे में मिले।

उन्होंने कहा कि ऐसा कानून बनाया जाए कि आरोप साबित होते दोषियों काे कड़ी से कड़ी सजा मिले। अमेरिका सऊदी अरब जैसे कानून बनाया जाए, ऐसी बीमारी को जड़ से खत्म किया जाए न कि मरहम लगाया जाए। खली ने कहा कि हैदराबाद की घटना काफी शर्मनाक थी, उनको सजा मिलनी चाहिए थी, लेकिन जो सजा दी है उसका तरीका गलत है।

लाखों लोग और भी जो बलात्कारी जेलों में है उनको ऐसी सजा क्यों नहीं। मुझे लगता है कि नाकामी छुपाने के लिए यह काम पुलिस ने किया है, मैं इसका सपोर्ट नहीं करता। सजा दो, लेकिन कानून के अनुसार। इसकी आड़ में निर्दोशी मारे जाएंगे। जिस वक्त पंजाब में उग्रवाद था, तब उग्रवादी कम मारे गए और निर्दोश लोग ज्यादा मारे गए। इसमें भी ऐसा ही होगा, लगाम नहीं लगेगी।

खली ने कहा कि फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाए गए हैं, लेकिन उसमें इंप्लीमेंट कुछ भी नहीं हो रहा है। खली ने कहा कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में एक हफ्ते में सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हम असली बीमारी की जड़ तक नहीं जा रहे, उसका इलाज नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर बीमारी को खत्म करना है तो उसका इलाज करो मरहम न लगाएं। उसे छुपाने के लिए पट्टी ने बांधे। खली ने कहा कि अपराध साबित होते ही अरोपी को सजा मिलनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here