एस्‍पर्गर सिंड्रोम से ग्रस्‍त ग्रेटा पर ट्रंप का तंज भरा ट्वीट, बचाव में आगे आईं मिशेल

0
32

वाशिंगटन । अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा (Barack Obama) की पत्नी मिशेल ओबामा (Michelle Obama) स्वीडन की जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) के बचाव में आगे आई हैं। उन्होंने ग्रेटा को प्रोत्साहित करते हुए ट्वीट किया। दरअसल, टाइम (Time) द्वारा ग्रेटा थनबर्ग को पर्सन ऑफ द इयर (Person of the year) चुना जाना अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को हजम नही हुआ और उन्‍हेांने ने ट्वीट कर ग्रेटा पर ताना कसा था। इसके लिए दुनिया में हर जगह ट्रंप की आलोचना हुई। वहीं मिशेल ओबामा ने बगैर ट्रंप का नाम लिए ही ग्रेटा को प्रोत्‍साहित किया। बता दें कि एसपर्गर सिंड्रोम (Asperger Syndrome) से ग्रस्त 16 साल की लड़की पूरी दुनिया में पर्यावरण के लिए लड़ाई लड़ रही है।

मिशेल ने अपने ट्वीट में लिखा कि किसी को अपनी रोशनी मंद करने मत दो। पूरी दुनिया व वियतनाम में जैसी लड़कियों से मैं मिली हूं, उन सबको देने के लिए तुम्हारे पास बहुत कुछ है। जो तुम पर या तुम्हारी प्रतिभा पर शक कर रहे हैं उन्हें नजरअंदाज करो और लाखों लोग जो तुम्हें प्रोत्साहित कर रहे हैं उन्हें देखो।

टाइम मैगजीन द्वारा ग्रेटा को पर्सन ऑफ द इयर चुने जाने से नाराज ट्रंप ने अपने ट्वीट में लिखा- ‘ग्रेटा को अपने एंगर मैनेजमेंट प्रॉब्लम (Anger Management Problem) पर काम करना चाहिए और इसके बाद अपने दोस्तों के साथ बेहतरीन पुरानी फिल्में देखनी चाहिए। चिल ग्रेटा चिल (Chill Greta Chill) !’ इसके बाद ग्रेटा ने ट्रंप के इस कथन को ट्वीटर पर अपना परिचय बना दिया।

ट्रंप ने ग्रेटा पर पहली बार नहीं बल्कि इससे पहले भी व्‍यंग्‍यात्‍मक कमेंट किया है। सितंबर में जब ग्रेटा संयुक्त राष्ट्र में इमोशनल हो गई थीं तब ट्रंप ने कहा था, काफी खुश लड़की अपने उज्‍जवल भविष्‍य की कामना कर रही है।

ब्राजील के राष्‍ट्रपति ने बताया था बिगड़ी बच्‍ची

ऐसा ही वाकया ब्राजील के राष्‍ट्रपति जायर बोलसोनारो की ओर से भी किया गया था। उन्‍होंने ग्रेटा को पुर्तगाली भाषा में ‘पिर्रलहा (pirralha) बताया था। इसका मतलब होता है बिगड़ी बच्‍ची। कुछ दिनों तक ट्वीटर पर ग्रेटा का परिचय यही था- ‘pirralha।’

ऐसा नहीं कि ग्रेटा के लिए सबने आपत्तिजनक शब्‍द ही बोले रूस के राष्‍ट्रपति ब्‍लादीमिर पुतिन ने उन्‍हें दयालु और कम नॉलेज वाली टीनएजर बताया था। इसे भी ग्रेटा ने ट्वीटर पर अपना परिचय बनाकर रखा।

जानें ग्रेटा की बीमारी एसपर्गर सिंड्रोम है क्‍या

वर्ष 1944 में आस्‍ट्रेलिया के एक डॉक्‍टर हंस एस्‍पर्गर (Hans Asperger) ने इस सिंड्रोम की पहचान की थी । इसके बाद ही इस सिंड्रोम का नाम एस्‍पर्गर हो गया। एस्पर्गर सिंड्रोम एक तरह का ऑटिस्टिक बीमारी है। इसमें सामाजिकता प्रभावित होती है यानि लोगों से संपर्क रखने और बातचीत की क्षमता कम होती है। इस सिंड्रोम से ग्रस्‍त लोगों का व्‍यवहार सामान्‍य नहीं होता बल्कि उसमें दोहराव होता है। लेकिन लोगों में कुछ विशेषताएं भी होती है जैसे विशेष ध्यान और दृढ़ता पैटर्न को पहचानने की क्षमता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here