BJP सांसद केपी यादव पर बेटे को आरक्षण का लाभ दिलाने का आरोप, मुंगावली SDM ने की कार्रवाई

0
24

गुना: गुना शिवपुरी संसदीय सीट के भाजपा सांसद डॉ केपी यादव मुश्किल में नजर आ रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को हराने के बाद वे काफी समय छाए रहे। लेकिन सोमवार को मुंगावली एसडीएम ने यादव और उनके बेटे का जाति प्रमाण-पत्र निरस्त करके बड़ा झटका दिया।
यह कार्रवाई एसडीएम द्वारा 2014 में बेटे सार्थक यादव को पिछड़ा वर्ग आरक्षण का लाभ दिलाने के लिए अपनी आय क्रीमीलेयर 8 लाख रुपए से कम बताने पर की गई है। जबकि लोकसभा चुनाव के दौरान यादव ने अपनी आय 39 लाख रुपए बताई थी। दोनों आय में अंतर होने पर मुंगावली से कांग्रेस विधायक ब्रजेंद्र सिंह यादव ने इसकी शिकायत एसडीएम से की थी। जांच के बाद एसडीएम ने जाति प्रमाण पत्र निरस्त कर इसका प्रतिवेदन एडीएम को भेजा है।

विधानसभा में उठाया जा सकता है यह मुद्दा
विधानसभा के शीतकालीन सत्र में कांग्रेस विधायक इस मुद्दे को प्रमुखता से उठा सकते हैं।
बताया जा रहा है कि ऐसे मामलों में आईपीसी की धारा 466 एवं 181 के तहत मामला दर्ज किया जाता है। दोषी पाए जाने की सूरत में सात साल की सजा का प्रावधान है।

मुंगावली विधायक ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज करने की मांग
मुंगावली के विधायक ब्रजेन्द्र सिंह ने कहा कि सांसद ने जो आय प्रमाण पत्र बनवाया था, उसमें उन्होंने अपनी आय को जाति प्रमाण पत्र का फायदा उठाने के लिए क्रीमीलेयर के नीचे दर्शाया था। उन्होंने किसी गरीब का हक मारा हैं, इसलिए उन पर धोखाधड़ी का केस दर्ज होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here