राज्यसभा भेजे जाएंगे ज्योतिरादित्य! सिंधिया खेमे को खुश करने की प्लानिंग

0
29

कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे को खुश करने के लिए कांग्रेस ने नया रास्ता खोज लिया है। पार्टी सिंधिया को मध्य प्रदेश के कोटे से राज्यसभा में भेजने की तैयारी में है। इससे कई समस्याओं का हल निकल आएगा। सिंधिया को सम्मान के साथ संसद और देश की राजनीति में शिफ्ट कर दिया जाएगा। साथ ही मध्य प्रदेश में उनके समर्थकों को खुश और शांत कर आसानी से सरकार चलाई जा सकेगी।

कांग्रेस ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा भेजने की तैयारी कर रही है। 9 अप्रैल 2020 को मध्य प्रदेश की तीन राज्यसभा सीटें खाली हो रही हैं। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा और भाजपा के ही वरिष्ठ नेता सत्यनारायण जटिया का कार्यकाल पूरा हो रहा है। इन तीन सीट में से दो कांग्रेस को मिलना तय माना जा रहा है। इन्हीं में से एक सीट पर कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा भेजने की तैयारी है।

लोकसभा चुनाव हार चुके कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस पार्टी संसद में भेजने की तैयारी हैय़ लेकिन इस बार सदन बदल जाएगा। उन्हें राज्यसभा भेजने की तैयारी है, ताकि सिंधिया गुट को संतुष्ट किया जा सके। साथ ही मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार सुचारू रूप से चल सके। इस सारे गणित और समीकरण को देखते हुए सिंधिया को राज्यसभा सदस्य बनाया जा सकता।

मध्यप्रदेश की अपनी पारंपरिक गुना शिवपुरी लोकसभा सीट हारने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के सितारे गर्दिश में हैं। उनके पास एमपी में कोई विशेष जिम्मेदारी नहीं है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी के लिए वो लगातार संघर्ष कर रहे हैं। हालांकि चुनाव हारने के बाद सिंधिया को पहले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया था और अभी हाल ही में ही उन्होंने झारखंड में कांग्रेस का चुनाव प्रचार किया था। उनका नाम कांग्रेस की स्टार प्रचारकों की सूची में था। झारखंड चुनाव के बाद इंदौर पहुंचे सिंधिया ने कहा था कि इस बार झारखंड में कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनेगी और हुआ भी वही झारखंड में कांग्रेस गठबंधन को बहुमत मिल गया है। इसमें सिंधिया की मेहनत भी शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here