नेता प्रतिपक्ष ने सरकार को संभलने की दी चेतावनी, तो मंत्री जीतू पटवारी बोले- सबक सिखा देंगे

0
35

भोपाल: मध्य प्रदेश में माफियाओं पर हो रही कार्रवाई को लेकर जहां एक ओर कांग्रेस भाजपा को टारगेट कर रही है तो वहीं भाजपा भी पूरे सख्त रवैये के साथ कांग्रेस पर हमलावर हुई है। इसी कड़ी में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि एंटी माफिया अभियान के नाम पर सरकार भाजपा कार्यकर्ताओं को टारगेट कर रही है। उन्हें दबाने का प्रयास किया जा रहा है। समय रहते ही कमलनाथ सरकार संभल जाए नहीं यदि जनप्रतिनिधियों को दबाया जाएगा तो हम सड़कों पर उतरेंगे। उन्होंने सरकार क चेतवानी देते हुए कहा कि वक्त रहते संभल जाए वरना परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें।

नेता प्रतिपक्ष भार्गव ने कहा, ‘हमारे वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने जब कमलनाथ सरकार की बदले की भावना से बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का विरोध किया तो उनके ऊपर भी आपराधिक मामला दर्ज कर दिया गया। मैं कमलनाथ सरकार के इस कारनामें की निंदा करता हूं।’ गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार को चुनौती देते हुए कहा, ‘मैं राज्य सरकार को चेतावनी दे रहा हूं। सरकार वक्त रहते संभल जाए नहीं तो परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें।

जीतू पटवारी ने किया पलटवार
भाजपा के नेताप्रति पक्ष के इस चेतावनी का खेल मंत्री जीतू पटवारी ने पलटवार करते हुए कहा कि, माफियाओं पर हो रही कार्रवाई से भाजपा नेता विचलित हो गए हैं। वे अपना संयम खो रहे हैं। पेंशन स्कीम घोटाले और सुगनी देवी घोटाले में शामिल व्यक्ति अगर भ्रष्टाचार पर सवाल उठाए तो साफ है कि चोर की दाढ़ी में तिनका है।’

माफियाओं के खिलाफ यह कार्रवाई चलती रहेगी। बीजेपी में सभी बड़े नेता अपने आप को बड़ा बताने की होड़ में लगे हैं। बीजेपी की अंदरूनी लड़ाई और स्पर्धा सभी बड़े नेताओं को सक्रिय रहने के लिए बाध्य कर रही है। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, नरोत्तम मिश्रा, शिवराज सिंह चौहान का विचलन और कैलाश विजयवर्गीय की अशोभनीय भाषा बताती है कि बीजेपी में अंदरूनी लड़ाई किस स्तर की है। हमने पहले भी इन्हें सबक सिखाया है और आने वाले समय में भी बीजेपी के इन नेताओं को सबक सिखाया जाएगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here