पाताललोक ट्रेन के सामने अचानक गिरा ट्रैक्टर, हुआ ऐसा हादसा कि उड़ गए होश

0
26

डबरा: दिल्ली मुम्बई रेल मार्ग पर बड़ा ट्रेन हादसा उस समय हो गया जब एक जनरेटर सेट और ट्रेक्टर ट्रॉली 25 फीट ऊचाई से नीचे रेल लाइन पर आ गिरी। यह हादसा उस वक्त हुआ जब वहां से एक्सप्रेस ट्रेन गुजर रही थी। इसकी चपेट में आने से एक्सप्रेस ट्रेन की पांच बोगियां क्षतिग्रस्त हो गई, लेकिन यह मामला यहीं नहीं रुका पीछे आ रही मालगाड़ी का इंजन लाइन पर पड़े ट्रैक्टर ट्रॉली में जोरदार टक्कर मार दी जिससे ट्रैक्टर ट्रॉली के परखच्चे उड़ गए और माल गाड़ी की एक बोगी पटरी से उतर गई। और पूरा रेल मार्ग लगभग 5 घंटे के लिए अवरूद्ध हो गया जिसमें रेल्वे का करोड़ों का नुकसान तो हुआ ही है साथ ही बड़ी जन हानि होने से बच गई।

दरअसल, दिल्ली सराय रोला से छिंदवाड़ा जाने वाली 14624 पातालकोट एक्सप्रेस ग्वालियर से डबरा की ओर आ रही थी। जैसे ही लगभग 6:00 बजे गाड़ी क्रमांक 1207/23- 25 पहाड़ी के बीच से गुजर रही थी तभी तीसरी लाइन को लेकर काम कर रही आरबीएनएल की कंपनी जीआरआईएल के कार्य में लगा ट्रैक्टर ट्रॉली अनियंत्रित हो गया।
जिस पर लगा जनरेटर सेट पातालकोट एक्सप्रेस से टकरा गया जिसमें पातालकोट एक्सप्रेस की दो ऐसी बोगी सहित तीन जनरल बोगियां क्षतिग्रस्त हो गई घटना के बाद ट्रेन में यात्रियों की चीख-पुकार मच गई। हालांकि ड्राइवर ने कुछ दूरी पर ट्रेन को रोका और घटना संबधी जानकारी लेकर बिना अधिकारियों को सूचित किए ट्रेन आगे ले गए। जब ट्रेन डबरा रेलवे स्टेशन पर रुकी तो आरपीएफ सब इंस्पेक्टर नंदलाल मीणा ने ट्रेन का पूरा जायजा लिया है।
वहीं पीछे से आ रही मालगाड़ी के इंजन ने बीच लाइन पर पड़े ट्रैक्टर ट्रॉली में जोरदार टक्कर मार दी जिससे माल गाड़ी का डिरेलमेंट हो गया इसके बाद रेल प्रशासन हरकत में आया और सभी झांसी जाने वाली गाड़ियों को यथा स्थान पर रुकवाया गया इसमें 5 घंटे तक अप रोड अवरुद्ध रहा वहीं दुर्घटना राहत ट्रेन मौके पर पहुंचे और दुर्घटनाग्रस्त बोगी को ट्रेन से हटाकर अलग किया गया इसके अलावा रेलवे ट्रैक भी तीन जगह से टूट गया था जिसे मौके पर इंजीनियरिंग विभाग से ठीक कराया गया इस ट्रैक पर पहली मालगाड़ी तकरीबन 12 बजे रवाना हुई।

वहीं घटनास्थल का जायजा लेने पहुंचे आरपीएफ और रेल्वे के आला अधिकारी भी इस हादसे को बड़ी चूक मान रहे है और मामले की जांच की बात कह रहे है। लेकिन घटना स्थल पर मौजूद तथ्य साफ इशारा कर रहे है कि जो हादसा हुआ है उसमें आरबीएनएल के ठेकेदार की बड़ी चूक रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here