CWC 2019: पाकिस्तान ने इंग्लैंड को 14 रनों से हराया

0
46

नाटिंघम : जो रूट और जोस बटलर के शतकों पर मोहम्मद हफीज का आलराउंड प्रदर्शन भारी पड़ गया जिससे पाकिस्तान ने खिताब के प्रबल दावेदार इंग्लैंड को एक बड़े स्कोर वाले मैच में सोमवार को यहां 14 रन से हराकर आईसीसी विश्व कप में अच्छी वापसी की।
वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने पहले मैच में 105 रन पर आउट होने वाले पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर आठ विकेट पर 348 रन का विशाल स्कोर बनाया। इन दोनों टीमों के बीच हाल की एकदिवसीय श्रृंखला में बड़े लक्ष्य हासिल करने वाले इंग्लैंड की तरफ से जो रूट (104 गेंदों पर 107) और बटलर (76 गेंदों पर 103) ने शतक जमाये लेकिन तब भी उसकी टीम नौ विकेट पर 334 रन तक ही पहुंच पाई।
इससे पहले हफीज ने शुरू में जीवनदान मिलने के बाद 62 गेंदों पर आठ चौकों और दो छक्कों की मदद से 84 रन बनाए। उनके अलावा बाबर आजम (66 गेंदों पर 63 रन) और कप्तान सरफराज अहमद (44 गेंदों पर 55 रन) ने भी अर्धशतक जमाये। पाकिस्तान की तरफ से 80 रन से अधिक की तीन साझेदारियां निभायी गयी। हफीज ने बाद 43 रन देकर कप्तान इयोन मोर्गन का महत्वपूर्ण विकेट भी लिया। वहाब रियाज ने तीन विकेट लिये लेकिन इसके लिये उन्होंने 82 रन लुटाए। शादाब खान और मोहम्मद आमिर को दो.दो विकेट मिले। विश्व कप में यह पहला अवसर है जबकि दो शतक लगने के बावजूद कोई टीम मैच हार गयी। पाकिस्तान ने इस जीत से लगातार 11 मैच गंवाने का क्रम भी तोड़ा। इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही और नौ ओवर के अंदर उसके दोनों सलामी बल्लेबाज जैसन रॉय (आठ) और जॉनी बेयरस्टॉ (32) पवेलियन में विराजमान थे।
लेग स्पिनर शादाब खान से गेंदबाजी का आगाज करवाने का सरफराज का फैसला सही रहा। उन्होंने रॉय को पगबाधा आउट किया। इस बीच 3000 वनडे रन भी पूरे करने वाले रॉय ने इंग्लैंड का रिव्यू भी गंवाया। बेयरस्टॉ भी ज्यादा देर नहीं टिक पाये और वहाब रियाज की गेंद को थर्डमैन पर खेलने के प्रयास में विकेट के पीछे कैच दे बैठे। कप्तान इयोन मोर्गन (नौ) शुरू से दबाव में दिखे और हफीज की उछाल लेती गेंद पर बोल्ड हो गए। हफीज के साथ दूसरे छोर से एक अन्य आफ स्पिनर शोएब मलिक ने गेंद संभाली और इन दोनों ने बल्लेबाजों पर दबाव बना दिया। इसका लाभ मलिक को मिला जिन्होंने बेन स्टोक्स (13) को विकेट के पीछे कैच कराया।
जब स्कोर चार विकेट पर 118 रन था तब रूट और बटलर ने जिम्मेदारी संभाली तथा पांचवें विकेट के लिए 130 रन जोड़े। इंग्लैंड को अंतिम 20 ओवरों में 166 रन की दरकार थी और पाकिस्तान के लिये यह साझेदारी सरदर्द बन चुकी थी। रूट अपने 15वें वनडे शतक तक 97 गेंदों का सामना करके पहुंचे, लेकिन इसके तुरंत बाद शादाब की अपेक्षाकृत तेज गेंद पर वह आसान कैच दे बैठे। बटलर ने मोहम्मद आमिर पर चौका लगाकर वनडे में अपना नौवां शतक पूरा किया, लेकिन वह भी रूट की राह पर चले। आमिर की आफकटर पर उन्होंने शार्ट थर्डमैन पर कैच दे दिया। उस समय इंग्लैंड को 33 गेंदों पर 61 रन की जरूरत थी। रूट ने दस चौके और एक छक्का जबकि बटलर ने नौ चौके और एक छक्का लगाया। रियाज ने मोईन अली (19) और क्रिस वोक्स (21) को लगातार गेंदों पर आउट करके इंग्लैंड की रही सही उम्मीद भी समाप्त कर दी।

इससे पहले इंग्लैंड ने मुख्य गेंदबाजों और क्षेत्ररक्षकों ने निराश किया। जोफ्रा आर्चर ने दस ओवर में 79 रन लुटाये। मोईन (50 रन देकर तीन) सबसे सफल गेंदबाज रहे जबकि मार्क वुड (53 रन देकर दो) ने दो विकेट लिये। वोक्स (71 रन देकर तीन विकेट) ने चार कैच लिए और विश्व कप में यह कारनामा करने वाले चौथे क्षेत्ररक्षक बने। इमाम उल हक (44) और फखर जमां (36) ने पहले विकेट के लिए 86 रन जोड़कर पाकिस्तान को अच्छी शुरुआत दिलाई। इस साझेदारी की विशेषता यह रही कि इन दोनों ने जोफ्रा आर्चर जैसे गेंदबाजों को खुद पर हावी नहीं होने दिया। इमाम का वोक्स पर लगाया गया छक्के से इनका आत्मविश्वास दिख रहा था।

मोईन ने ही यह साझेदारी तोड़ी लेकिन इसमें बटलर का योगदान अहम रहा जिन्होंने फुर्ती दिखाकर फखर को स्टंप किया। मोईन ने ही इमाम को भी पवेलियन भेजा लेकिन वह वोक्स थे जिन्होंने दौड़ लगाकर लांग आफ पर कैच लिया।

दोनो टीमें इस प्रकार है……

प्लेइंग XI इस प्रकार हैंः

इंग्लैंडः जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट, इयोन मॉर्गन (कप्तान), बेन स्टोक्स, जोस बटलर, मोइन अली, क्रिस वोक्स, जोफ्रा आर्चर, आदिल राशिद, मार्क वुड।

पाकिस्तान: फखर जमान, इमाम-उल-हक, बाबर आजम, सरफराज अहमद (कप्तान व विकेट कीपर), आसिफ अली, मोहम्मद हफीज, हसन अली, मोहम्मद आमिर, शादाब खान, शोएब मलिक और वहाब रियाज।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here