इमरती देवी पर भड़के शिवराज, नसीहत देकर सत्ता वापसी का किया दावा

0
39

ग्वालियर: मध्य प्रदेश कैबिनेट मंत्री इमरती देवी द्वारा विपक्ष को कुत्ता कहने वाले बयान पर शिवराज सिंह ने नाराजगी जताई है। मीडिया के रुबरु होते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि अहंकार और मद में इतना चूर नहीं होना चाहिए कि आप विपक्ष को कुछ भी कहें! यह लोकतंत्र है, विरोध करने का विपक्ष का अपना अधिकार है। कांग्रेस सरकार यदि यह चाहती है कि इन अधिकारों को वह कुचल देगी, तो हम कहते हैं कि हम इस कुचलने वाली मानसिकता को ही कुचल देंगे।

राजमाता विजयाराजे सिंधिया की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित करने वे ग्वालियर पहुंचे थे। सिंधिया परिवार की छत्री में आयोजित समारोह में शिवराज समेत भाजपा के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे। इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमन सिंधिया भी मौजूद थे। महाआर्यमन सिंधिया ने शिवराज सिंह चौहान का स्वागत किया और शिवराज सिंह चौहान से बात भी की। हालांकि इस कार्यक्रम में ज्योतिरादित्य सिंधिया मौजूद नहीं थे। शिवराज सिंह चौहान ने इस दौरान भजन भी गया।

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए शिवराज सिंह ने इमरती देवी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि विरोध करना विपक्ष का अधिकार सत्ता पक्ष, विपक्ष की आवाज नहीं कुचल सकता, बल्कि हम ऐसी मानसिकता को ही कुचल देंगे। उन्होंने सत्ता वापसी का दावा करते हुए कहा कि मुरैना जिले के जौरा विधानसभा में कांग्रेस को मुंहतोड़ जबाव देगें और भाजपा एक बार फिर से सत्ता में वापसी करेगी। वहीं शिवराज ने सिंधिया को भू माफिया और कैलाश विजयवर्गीय के पोहे वाले बयान से कन्नी काट ली।

बता दें कि, ग्वालियर ज़िले के भगवत सहाय सभागार में शुक्रवार को राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बेटियों के लिए सम्मान समारोह के बाद मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए इमरती देवी ने बीजेपी पर एक विवादास्पद बयान दिया था उन्होंने राजगढ़ की घटना के बाद कलेक्टर को लेकर चल रही खींचतान और बीजेपी के आंदोलन पर कहा कि, ‘हम कांग्रेसी हाथी हैं, चलते रहते हैं और कुत्ते भौंकते रहते हैं। हमें कोई फर्क नहीं पड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here