Delhi Election 2020: BJP सांसद का एक और विवाद बयान, कहा- हटा दूंगा सरकारी जमीन पर बनी सारी मस्जिद

0
29

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 के लिए चुनाव प्रचार की कड़ी में विवादित बयानों का सिलसिला जारी है। पश्चिमी दिल्ली से भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा एक के एक विवादित बयान देकर चर्चा में आ गए हैं। अब उन्होंने कहा है- जब दिल्ली में मेरी सरकार बन गई तब 11 फरवरी को बाद एक महीने में, मेरी लोकसभा में जितनी मस्जिद सरकारी जमीन पर बनी हैं, उनमें से एक मस्जिद नहीं छोड़ूंगा। सारी मस्जिद हटा दूंगा।’

Delhi Election 2020 LIVE:

  • केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि दिल्ली में भाजपा की तय है, क्यों कि लोग शांति चाहते हैं, अराजकता नहीं। वहीं, शाहीन बाग के धरने पर कहा कि जो लोग दिल्ली में शाहीन बाग जैसा माहौल बनाना चाहते हैं, उन्हें लोग मुंहतोड़ जवाब देंगे … जब भी केजरीवाल जी चाहेंगे, शाहीन बाग में सड़क फिर से खोली जाएगी।
  • पश्चिमी दिल्ली से लोकसभा सांसद प्रवेश वर्मा ने बयान में कहा है कि दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी तो शाहीन बाग को एक घंटे में खाली करा देंगे।
  • आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस के साथ अन्य छोटे दलों ने प्रचार तेज कर दिया है। मंगलवार को सीएम अरविंद केजरीवाल, जेपी नड्डा और दिल्ली कांग्रेस चीफ सुभाष चोपड़ा दिल्ली में रैलियां व जनसभा करेंगे।
  • दिल्ली की रिठाला विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार के दौरान केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री और हिमाचल प्रदेश से लोकसभा सांसद अनुराग ठाकुर ने विवादित दिया है। वीडियो वायरल होने पर रिटर्निंग ऑफिसर ने जवाब मांगा है।

बसों में मुफ्त योजना को चुनौती देने वाली याचिका खारिज

दिल्ली में बसों में महिलाओं को मुफ्त सफर की योजना को चुनौती देने वाली याचिका को हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया है। मिनी बस, ग्रामीण सेवा और फट-फट सेवा संगठनों ने हाई कोर्ट में चुनौती दी थी। इसमें कहा गया था कि बगैर अधिसूचना के मुफ्त बस सफर योजना को क्लस्टर बसों में लागू किया गया है।

इस पर हाई कोर्ट ने कहा हम ऐसे आपकी बात नहीं मान सकते। अगर बगैर अधिसूचना के योजना को लागू किया गया तो यह गलत कार्रवाई होगी। अगर दिल्ली सरकार ने इस योजना को क्लस्टर बसों में लागू किया है तो उनकी नोटिफिकेशन गलत नहीं होगी। हाई कोर्ट ने संगठनों के वकील से कहा कि अगली बार चाहें तो अच्छे से एक दुरुस्त याचिका दायर कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here