सरकारी मकान अलॉटमेंट में बड़ा फर्जीवाड़ा, जांच में सामने आए 96 मामले

0
29

भोपाल: मध्य प्रदेश में सरकारी मकान अलॉट करने की प्रक्रिया में फर्ज़ीवाड़ा का मामला सामने आया है। यह फर्जीवाड़ा शिवराज सरकार के दौरान किया गया था जिसका खुलासा अब हुआ। इस सारे घोटाले में गृह विभाग के संचालनालय में बाबू राहलु खरते पैसे वसूलकर पुलिस वालों को नंबर आने से पहले ही मकान अलॉट कर देता था।   उसने मुख्यमंत्री की जाली नोटशीट बनाकर पुलिस वालों को सरकारी मकान अलॉट किए थे। इस पर जहांगीराबाद पुलिस ने मामला दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है। इस फर्जीवाड़े में अब तक 96 मामले सामने आए हैं। जांच में पाए गए सारे मकान मालिकों को नोटिस देकर मकान खाली करने के आदेश दिए गए हैं।
बताया जा रहा है कि सरकारी मकान अलॉटमेंट घोटाले में पुलिस वालों ने सबसे ज़्यादा मकान अलॉट कराए। जांच में 96 पुलिसकर्मियों के फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। फिलहाल पिछले चार साल में पुलिस वालों को मकान अलॉट करने की जांच जारी है। इसमें और भी मामले सामने आने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here