दलाई लामा ने करोना वायरस से बचने के लिए दी इस ‘खास’ मंत्र के जाप की सलाह

0
34

चीन में फैले खतरनाक कोरोना वायरस का अभी तक कोई ठोस इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। कोरोना वायरस से चीन में अब तक 130 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं और 6000 से अधिक लोग प्रभावित बताए गए हैं। इसके चलते भारत में अलर्ट जारी किया गया है। इस बीच तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा ने करॉना वायरस के खतरे से बचने के लिए चीन में अपने अनुयायियों को मंत्रोच्चार करने को कहा है।

जानकारी के मुताबिक, चीन के वुहान में संक्रमण के मामलों के बढ़ने के बीच श्रद्धालुओं के एक समूह ने फेसबुक पर दलाई लामा से अनुरोध किया था कि वह इस वायरस से बचने के लिए कोई सलाह दें। उनकी चिंताओं पर जवाब देते हुए दलाई लामा ने चीन में अपने अनुयायियों और बौद्ध भिक्षुओं को ‘तारा मंत्र’ जिसे डोलमा मंत्र भी कहा जाता है, का पाठ करने को कहा क्योंकि यह विषाणु के प्रसार को रोकने में प्रभावी रूप से फायदेमंद होगा। उन्होंने संक्रमित लोगों को चिंताओं से ध्यान हटाकर शांत चित्त के साथ ‘ओम तारे तुत्तरे तुरे स्वाहा’ का पाठ करने को कहा।

उन्होंने मंत्रोच्चार के पाठ का एक वॉइस क्लिप भी शेयर किया है। भारत में भी अब तक हजारों लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा चुकी है और सैकड़ों लोगों को निगरानी में रखा गया है। कई अस्पतालों में करॉना के संदिग्धों के लिए स्पेशल वॉर्ड बनाया गया है। विदेश और खासकर चीन से आने वाले हर यात्री की स्क्रीनिंग एयरपोर्ट पर ही करने की कोशिश की जा रही है।

कफ, बुखार और सांस लेने में तकलीफ हैं शुरुआती लक्षण
कोरोनावायरस अकेला वायरस नहीं है। यह कई वायरस का समूह है। बाकी अन्य वायरस की तरह यह भी जानवरों से फैलता है। शुरुआत में जो भी संक्रमित सामने आए, वे सभी वुहान (चीन) के सी फूड मार्केट में या तो काम करते थे, या वहां से अक्सर खरीदारी करते थे। वायरस से निमोनिया होता है। कफ, बुखार और सांस लेने में तकलीफ इसके शुरुआती लक्षण हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here