लोकायुक्त की टीम रिश्वतखोर क्लर्क की उतरवाकर ले गई पैंट

0
75

भोपाल: भोपाल में लोकायुक्त की कार्रवाई में एक कलर्क को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। लोकायुक्त ने यह कार्रवाई नगर निगम के एक कर्मचारी स्वर्गीय शेख मोहम्मद की पत्नी ने शिकायत की थी। जिसमें कार्रवाई के दौरान लोकायुक्त पुलिस ने कलर्क की पैंट तक उतरवा ली। महिला ने लोकायुक्त पुलिस को शिकायत की थी कि माता मंदिर स्थित नगर निगम दफ्तर का लेखा कलर्क शमीमुद्दीन उनके मरहूम पति के एरियर के बचे हुए डेढ़ लाख रुपए निकालने के लिए तीन हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि शमीमुद्दीन एक हजार रुपए की रिश्वत ले चुका है। शेष रकम दो हजार रुपए की मांग कर रहा है।

जानकारी के अनुसार, महिला ने सबूत के तौर पर रिश्वत के लेन-देन की आरोपी से फोन पर हुई बातचीत रिकॉर्ड कर ली थी। जिसके आधार पर लोकायुक्त टीम ने नगर निगम कार्यालय में छापा मारा और शमीमुद्दीन को रिश्वत की रकम के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार किया। लोकायुक्त टीआई मनोज पटवा ने बताया प्लानिंग के अनुसार, दिवंगत शेख मोहम्मद का बेटा शेख रिजवान रिश्वत के बाकी के दो हजार रुपए लेकर नगर निगम के दफ्तर पहुंचा। वहां लेखा लिपिक शमीमुद्दीन अपने केबिन में बैठा था। उसने रिजवान से रिश्वत लेकर अपने पैसे अपने पेंट की जेब में रख लिए।

तभी पहले से तैयार लोकायुक्त की टीम ने तत्काल घेराबंदी कर शमीमुद्दीन को पकड़ लिया। टीम ने उसके हाथ पानी से धुलवाए तो उसके नोटों पर लगे कैमिकल से गुलाबी हो गए। इसके बाद रिश्वत की रकम निकलवाने के लिए शमीमुद्दीन की पैंट भी उतरवा दी। टीम ने पेंट की जेब के उस हिस्से पर भी पानी डाला, जहां उसने रिश्वत के दो हजार रुपए रखे थे। पानी लगते ही वह हिस्सा भी गुलाबी हो गया। लोकायुक्त टीम ने बाबू की पैंट भी जब्त कर ली। बताया जा रहा है कि लोकायुक्त टीम ने पैंट इसलिए ज़ब्त की ताकि इसे कोर्ट में सबूत के तौर पर पेश किया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here