भारत ने अभी तक नहीं की है U19 World Cup की मेजबानी, जानिए क्या BCCI चाहती है मुनाफा?

0
28

नई दिल्ली। ICC U19 World Cup: भारत अंडर 19 विश्व कप की सबसे सफल टीम है। भारतीय टीम ने अलग-अलग खिलाड़ियों की कप्तानी में 4 विश्व कप जीते हैं, जबकि लगातार तीसरी बार भारतीय टीम अंडर 19 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची है। पाकिस्तान को एकतरफा मुकाबले में भारत की युवा टीम ने रौंदा है और सातवीं बार अंडर 19 वर्ल्ड कप के फाइनल में प्रवेश किया है। हालांकि, आपको ये बात जानकर हैरानी होगी कि अंडर 19 वर्ल्ड कप की सबसे सफल टीम भारत ने एक भी बार इस ग्लोबल यूथ टूर्नामेंट की मेजबानी नहीं की है।

आइसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप की मेजबानी की लेकर अफवाह थी कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इसलिए इस टूर्नामेंट का आयोजन नहीं कराएगा, क्योंकि इससे फायदा नहीं होता है। वहीं, बीसीसीआइ के पूर्व अधिकारियों ने इस तरह की खबरों को बेबुनियाद बताया है और कहा है कि ऐसी कोई बात नहीं है कि बीसीसीआइ मुनाफा देख रही है। बोर्ड के पूर्व कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी और पूर्व बीसीसीआइ सचिव निरंजन शाह ने इन्हीं बातों का जवाब दिया है और कहा है कि ये फैसला इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी ICC को करना होता है।

मुनाफा नहीं है U19 वर्ल्ड कप की मेजबानी का कारण

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए अनिरुद्ध चौधरी ने कहा है, “अंडर 19 वर्ल्ड कप के मेजबानी का फैसला आइसीसी को करना होता है। ये उन पर निर्भर करता है कि वे किस तरह से अंडर 19 वर्ल्ड कप को प्रमोट करना चाहते हैं। मैं नहीं मानता है कि मुनाफे के कारण भारत इसकी मेजबानी नहीं कर रहा। बीसीसीआइ घरेलू क्रिकेट पर करोड़ों रुपये खर्च कर रही है, जिससे बोर्ड को कोई मुनाफा नहीं होता है। अंडर 19 वर्ल्ड कप भारत में आयोजित नहीं हो रहा है इसका जवाब बीसीसीआइ से ज्यादा आइसीसी को पता होगा।”

उन्होंने आगे कहा, “ICC के Executive Board ने वर्ल्ड कप की मेजबानी को लेकर पहले ही निर्णय लिया हुआ है। 2014 में हुई मीटिंग में 2015 से 2023 तक होने वाले टूर्नामेंट की मेजबानी तय कर ली गई थी। ऐसा प्रतीत होता है कि बीसीसीआई ने कभी भी जूनियर इवेंट की मेजबानी करने की इच्छा नहीं जताई।” वहीं, शाह ने कहा, “मुझे नहीं लगता है कि हमारे पास अंडर 19 वर्ल्ड कप के खिलाफ कुछ है। रेवेन्यू की कमी कोई कारण नहीं है। दूसरे हिसाब से देखें तो ये हमारे खिलाड़ियों के लिए अच्छी बात है कि वे विदेशों में भी अच्छा कर रहे हैं और जीत रहे हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here