Delhi Election 2020 : क्‍या इस गढ़ को बचा पाएगी BJP, इस सीट पर जीत की हैट्रिक के फ‍िराक में पार्टी

0
33

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली विधानसभा की रोहिणी सीट भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी  (आप) दोनों के लिए खास महत्‍व रखती है। 2020 के विधानसभा चुनाव में सबकी निगाहें यहां टिकी हुई है। 2015 के विधानसभा चुनाव में आप ने ऐतिहासिक प्रदर्शन किया था। 70 में से 67 सीटों पर जीत हासिल की थी। लेकिन जिन तीन सीटों पर जीत हासिल नहीं कर सकी उसमें रोहिणी भी शामिल है। कांग्रेस इस चुनाव में एक भी जीत दर्ज नहीं करा सकी थी। ऐसे में एक बार फ‍ि र यहां से भाजपा के मौजूदा विधायक विजेंद्र गुप्ता दूसरी बार चुनावी मैदान में हैं। अब यह देखना दिलचस्‍प होगा कि आखिर इस बार यहां की जनता किस पर आस्‍था रखती है। क्‍या भाजपा अपने जीत की हैट्रिक बना पाने में कामयाब हो पाएंगे।

हैट्रिक की तैयारी में भाजपा 

2015 के विधानसभा चुनाव में आप को दिल्ली में बंपर जीत मिली। लेकिन रोहिणी की जनता ने भाजपा के विजेंद्र गुप्‍ता पर अपनी आस्‍था दिखाई। यहां आप को निराशा हाथ लगी। रोहिणी में  मुकाबला कांटे का रहा। महज 4.5 फीसद मतों के अंतर से भाजपा यह सीट दूसरी बार अपने नाम करने में कामयाब हो गई। विजेंदर को शानदार जीत का फायदा मिला और दिल्ली विधानसभा में उन्हें नेता प्रतिपक्ष बनाया गया।

2008 में यह रोहिणी विधानसभा सीट अस्तित्व में आई 

  • 2008 में रोहिणी विधानसभा सीट पर भाजपा के जय भगवान अग्रवाल ने कांग्रेस के विजेंदर जिंदल को हराया था। 2013 के चुनाव में आम आदमी पार्टी ने पहली बार चुनाव में हिस्सा लिया और तब के विधायक और भाजपा उम्मीदवार जय भगवान अग्रवाल को हराते हुए सीट पर कब्जा जमा लिया था।
  • कौन हैं विजेंद्र गुप्ता
  • इसमें सबसे अग्रणी नाम विजेंद्र गुप्ता का है। विजेंद्र को वर्ष 2013 में उन्हें दिल्ली की सबसे बड़ी सीट नई दिल्ली से भाजपा के टिकट पर चुनावी मैदान में उतारा गया। हालांकि, इस चुनाव में वह तीसरे स्‍थान पर रहे।
  • साल 2015 में गुप्ता को सबसे बडी जीत हासिल हुई। उन्होंने आप के उम्मीदवार को करीब पांच हजार वोटों से हराया। वे भाजपा के उन तीन विधायकों में से एक थे, जो आम आदमी पार्टी की आंधी के बावजूद अपनी सीट बचाने में कामयाब रहे।
  • गुप्ता को 16 अप्रैल 2015 को दिल्ली विधानसभा में विपक्ष का नेता भी नियुक्त किया गया। विजेंद्र गुप्ता साल 1997-98  में एमसीटी की लॉ एंड जनरल कमेटी का हिस्सा थे।
  • 1998-2010 तक विजेंद्र गुप्ता स्टैंडिंग कमेंटी के मेंबर रहे। भाजपा के वरिष्‍ठ नेता विजेंद्र गुप्ता श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स के छात्र रहे। उन्होंने यहां से एमकॉम की पढ़ाई की।
  • वह छात्र राजनीति में भी काफी सक्रिए रहे, वे दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ के उपाध्यक्ष भी रहे। विजेंद्र गुप्ता तीन बार रोहिणी क्षेत्र से निगम पार्षद रहे, वे भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष पद पर भी थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here