बिहार में सियासी पोस्‍टर वार का नया एडिशन, CM नीतीश पर किया हमला तो लालू को बताया भ्रष्‍ट

0
28

पटना। बिहार में सियासी पोस्‍टर वार (Political Poster War) लगातार जारी है। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) व जनता दल यूनाइटेड (JDU) के बीच करीब एक महीने से जारी इस जंग की ताजा कड़ी जेडीयू के समर्थन में जारी पोस्‍टर है। पटना के आयकर चौराहा पर लगाए गए इस पोस्टर में लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को भ्रष्टाचार (Corruption) का जन्मदाता बताया गया है। यह आरजेडी के उस पोस्‍टर का जवाब है, जिसमें मुख्‍यमंत्री (CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर तंज कसे गए थे। बीते कुछ महीनों से जारी इस सियासी पोस्‍टर जंग का जनता खूब मजा ले रही है।

पोस्‍टर में पूछा: बिल्लियां कब से दूध की पहरेदारी करने लगीं?

जेडीयू के पक्ष में जारी इस पोस्‍टर में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव तथा उनके बेटे व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) की तस्‍वीर दी है। साथ ही स्‍लोगन के माध्‍यम से लालू को भ्रष्टाचार का जन्मदाता बताया गया है। व्यंग्य के जरिए लालू परिवार (Lalu Family) पर घाेटालों (Scams) व संपत्ति बटोरने के अंतहीन कहानी की बात कही गई है। साथ ही सवाल उठाया गया है कि बिल्लियां कब से दूध की पहरेदारी करने लगीं?

आरजेडी के पोस्‍टर का दिया जवाब

उक्‍त पोस्‍टर शनिवार को जारी आरजेडी के उस पोस्‍टर का जवाब है, जिनमें जेडीयू सुप्रीमो व मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को निशाने पर लिया गया है। पोस्टर में आरजेडी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए लिखा है कि काम नहीं किया, काम नहीं गिनाऊंगा। साथ ही उनपर 15 साल के शासन काल में काल्पनिक डर दिखाने तथा सरकारी खर्च पर पब्लिसिटी करने के आरोप लगाए गए हैं। इनके अलावा नीतीश कुमार पर माफिया को आवास पर बुलाने, अपराधियों को पनाह देने, जनता को भरमाने, पटना को पानी में डुबाेने, मीडिया में अपनी तारीफ झूठी कराने व चेहरा चमकाने आदि के आरोप लगाए गए हैं। जेडीयू का नया पोस्‍टर इसी का जवाब है।

दो दिनों के अंदर ये पोस्‍टर भी रहे चर्चा में

इसके पहले शुक्रवार को भी जेडीयू की ओर से आरजेडी के खिलाफ पोस्टर जारी कर लालू यादव पर हमला किया गया था- परिवार मोह के प्यार में, पहुंच गए होटवार में। पोस्‍टर में लालू-राबड़ी राज के दौरान हुए नरसंहारों व भ्रष्टाचार को लेकर भी हमला किया गया था।

शुक्रवार को ही उस पोस्‍टर के जवाब में कांग्रेस ने राहुल गांधी और नीतीश कुमार की तस्वीर लगे पोस्टर में नीतीश कुमार से उनसे पुराने वादों का हिसाब मांगा था। पोस्‍टर में आरजेडी ने विशेष राज्य का दर्जा देने, गरीबों का पलायन रोकने, अपराध पर लगाम लगाने, नई फैक्ट्री लगने तथा रोजगार, महिला अत्याचार, कृषि क्षेत्र में उत्थान आदि के मुद्दों पर जवाब मांगा था। इसके पहले भी दोनों तरफ से एक-दूसरे के खिलाफ कई पोस्‍टर जारी किए गए हैं।

ढ़ाई महीने से जारी जंग का मजा ले रही जनता

विदित हो कि आरजेडी व जेडीयू के बीच पोस्टर वार बीते करीब ढ़ाई महीनों से जारी है। खास बात यह है कि जेडीयू के समर्थन में जारी पोस्‍टरों पर पार्टी का नाम नहीं रहता, लेकिन उसकी भाषा से स्‍पष्‍ट है कि इनका कहीं न कहीं जेडीयू से प्रत्‍यक्ष न सही, अप्रत्‍यक्ष जुड़ाव है। कम-से-कम लाेग तो यही मान रहे हैं। ये पोस्‍टर लोगों के मनोरंजन का सबब बने हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here