MP में बढ़ते अपराध को लेकर मचा सियासी बवाल, BJP ने CM और गृहमंत्री से मांगा इस्तीफा

0
80

भोपाल: उज्जैन के बाद राजधानी भोपाल में मासूम से दुष्कर्म के बाद हत्या के बाद एमपी में बवाल मच गया है। विपक्ष फिर एक बार फिर कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर रहा है। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने ट्वीट के माध्यम से एक के बाद एक ट्वीट कर बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए सीधे तौर से सीएम कमलनाथ और गृहमंत्री बाला बच्चन को जिम्मेदार ठहराया हैं और इस्तीफा की मांग की है वही प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने घटना को प्रदेश सरकार की नाकामी बताया है।

नेता प्रतिपतक्ष ने कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल

गोपाल भार्गव ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर लिखा है कि, उज्जैन और अब राजधानी भोपाल में मासूम बच्चियों के साथ हुई घटनाओं ने प्रदेश का शर्मसार कर दिया है। अबोध बेटियों के साथ हो रही ऐसी घटनाएं हमारा शर्म से माथा झुका देती है। समाज की विकृतियां आज इस भयावह स्तर पहुँच जायेगी यह कभी सोचा भी नही था। दूसरे ट्वीट में भार्गव ने लिखा है कि कांग्रेस का राज अब जंगलराज में तब्दील हो चुका है।

बीते 6 माह से प्रदेश के नाबालिग भी असुरक्षित है। पहले नाबालिगों के लगातार अपहरण और हत्याएं अब लगातार मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म ओर नृशंस हत्या की ये घटनाओं के लिए प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था जिम्मेदार है।वही अगले ट्वीट में भार्गव ने लिखा है कि नाबालिग सुरक्षित नहीं और पुलिस की लापरवाही पूर्ण कार्यशैली ने एक बेटी की जान ले ली है, जो शर्मनाक है। बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए सीधे तौर से सीएम कमलनाथ और गृहमंत्री जिम्मेदार हैं। इसलिए नैतिक आधार पर मुख्यमंत्री कमलनाथ और गृहमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।

राकेश सिंह बोले, कानून व्यवस्था चौपट
वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने घटना को प्रदेश सरकार की नाकामी बताया है। राकेश सिंह ने भोपाल में 8 साल की मासूम के साथ हुई बर्बरता को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। घटना को लेकर राकेश सिंह ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला । राकेश सिंह ने कहा कि कमलनाथ सरकार तबादला उद्योग चलाने में जुटी हुई है। मध्यप्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। अधिकारियों में काम को लेकर लगाव ही नहीं है, अधिकारी असमंजस में हैं कि पता नहीं कब तबादला हो जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here