96 घंटे बीतने के बाद भी बोरवैल में जिंदगी की जंग लड़ रहा ‘फतेह, अब सेना ने संभाला मोर्चा

0
55

संगरूर: 120 फुट गहरे बोरवेल में गिरे 2 साल के बच्चे फतेहवीर सिंह को बचाने का प्रयास सोमवार को भी जारी है। जिले के भगवानपुरा गांव में अपने घर के पास सूखे पड़े इस बोरवेल में गुरूवार शाम को फतेहवीर गिर गया था और उसे बचाने में अब 96 घंटे से अधिक का समय बीत चुका है।

आख़िर अब प्रशासन की तरफ से फतेहीवर को सुरक्षित बोरवैल से निकालने की कमान सेना के हवाले कर दी गई है। गत गुरुवार करीब 4 बजे माता -पिता के साथ खेलते समय बोरवैल में गिरे फतेहवीर सिंह को बाहर निकालने के लिए एन. डी. आर.एफ. की टीम, डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों और अन्य समाज सेवीं संस्थाओं की तरफ से लगातार कोशिश की जा रही हैं। हर कोशिश नाकाम होने के बाद अब सेना को गांव भगवानपुरा बुलाया गया है और फतेहवीर को बचाने की कमान अब सेना ने अपने हाथ में ले ली है।

आज फतेहवीर सिंह का जन्मदिन भी है और आशा थी कि आज एन. डी. आर.एफ. की टीम की तरफ से उसे बोरवैल से बाहर निकाल लिया जाएगा लेकिन आधा दिन बीत जाने के बावजूद भी फतेह की लोकेशन का पता नहीं लगाया जा सका। वहीं मौके पर मौजूद लोगों की तरफ से भी प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोला गया और जल्द से जल्द रैसक्यू आपरेशन की कमान सेना के हाथ देने की मांग की गई। आख़िर प्रशासन ने लोगों के गुस्से को देखते सेना को घटनास्थान पर बुलाया गया तांकि मौत से लड़ रहे फतेहवीर सिंह को सुरक्षित बाहर निकाला जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here