J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने 2 आतंकी किए ढेर, सेना ने बम से बिल्डिंग को उड़ाया

0
56

श्रीनगर : दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में सेना और अन्य सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। यहां एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तोयबा के 2 आतंकियों को ढेर कर दिया। सेना की 55 राष्ट्रीय राइफल, सीआरपीएफ  और जम्मू कश्मीर पुलिस की ज्वाइंट टीम ने इस एनकाउंटर को अंजाम दिया। जानकारी के मुताबिक सुरक्षाबलों की आतंकियों के साथ पर अभी भी मुठभेड़ जारी है। ऐसा बताया जा रहा है कि अभी भी 2 से तीन आतंकी इलाके में छिपे हुए हैं। सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है।  इलाके में ट्रेन, फोन और इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। इलाके में हिंसक प्रदर्शन भी शुरू हो गए है।

आतंकियों के साथ हुई यह मुठभेड़ पुलवामा जिले के अवंतिपोरा के रियाइशी इलाके संगम में चल रही है।बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने हिज्बुल मुजाहिद्दीन के डिप्टी चीफ  सैफुल्ला को घेर लिया है। वहीं, दो अन्य आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया है। शुक्रवार सुबह से ही आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ चल रही थी, दोनों ही ओर से लगातार गोलियां बरसाई जा रही थीं। ये मुठभेड़ पुलवामा के ब्रोबंदिना इलाके में हुई, जहां पर इनपुट मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने अपना ऑपरेशन शुरू किया और इलाके को घेर लिया। जिसघर में आतंकवादी छिपे थे सुरक्षाबलों ने उसीको उड़ा दिया, जब वहां पर आग लगी तो आतंकी बाहर की ओर भागे और सुरक्षाबलों ने उन्हें ढेर कर दिया। मारे गए आतंकियों के पास से सुरक्षाबलों ने भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किया है।

मुठभेड़ के बारे में बयान जारी करते हुए पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि अवंतिपोरा तहसील में सुरक्षाबलों द्वारा मारे गए दो आतंकियों का तालूख लश्कर-ए-तोयबा के साथ था। मारे गए आतंकियों की पहचान इरफान अहमद डेगु उर्फ अबु जरार निवासी नैना लित्तर पुलवामा और तस्सदुक अमीन शाह निवासी कदलाबल पांपोर के रुप में हुई है।  उन्होंने कहा कि पुलिस रिकोर्ड के अनुसार मारे गए दोनो आतंकी लश्कर से जुड़े थे और सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमलों और नागरिकों के साथ अत्याचार के लिए वांछित थे।

प्रवक्ता ने कहा कि पुलिस रिकोर्ड के अनुसार इरफान उस समूह का हिस्सा था जो इलाके में कई हमलों को अंजाम देने और नागरिकों पर अत्याचार करने में शामिल था। वह इलाहीबाग पुलवामा में सुरक्षाबलों पर हुए हमले में शामिल था। इस हमले में एक जवान शहीद हो गया था। इसके अलावा तस्सदुक श्रीनगर के पांथाचोक इलाके में नागरिक की हत्या में शामिल था। उसके खिलाफ कई अन्य अपराध भी दर्ज थे। उन्होंने कहा कि मुठभेड़ स्थल से हथियारों और गोलाबारुद सहित अन्य सामान बरामद किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here