सरकार के द्वारा हम सभी को घोषणाओं के नाम पर किस तरह लालीपाप दी गई- गुमानसिंह डामोर

0
147

जीतू सेन

भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रदेश स्तरीय आव्हान पर प्रदेश की कमलनाथ सरकार के 100 दिनों के अंदर ही व्यापक भृष्टाचार को लेकर भृष्टाचारियो के खिलाफ धिक्कार सभा का आयोजन जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा के नेतृत्व में स्थानीय बस स्टेंड पर किया गया । इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा, विधायक गुमानसिंह डामोर, पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल, जिला महामंत्री प्रवीण सुराणा, जिला भाजपा मीडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी, कल्याणसिंह डामोर, अजय पोरवाल, नगर मंडल अध्यक्ष बबलु सकलेचा,अंकुर पाठक, अजय सोनी जितेन्द्र पांचाल, गुमानसिंह गुण्डिया,इरशाद कुरेशी , भूपेश सिंगोड, कीर्ति भावसार, निर्मला अजनार, रईसा कुरेशी, हरू भूरिया, छितूसिंह मेडा, मेगजी भाई अमलियार, विजय चैहान, सहित बडी संख्या में भाजपा पदाधिकारीगण एवं कार्यकर्तागण उपस्थित थे ।प्रदेश की कमलनाथ सरकार के तीन माह के कार्यकाल में हुए भृष्टाचार का जिक्र करते हुए जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा ने कहा कि 15 साल से सत्ता में महरूम कांग्रेस पार्टी ने कमलनाथ की सरकार के आते ही रेकार्डस्तर पर भृष्टाचार शुरू कर दिया हैं । काग्रेस की सरकार के भृष्टाचार की पोल खुलचुकी है तथा मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों के यहां से करोडो की संपत्ति बरामद हुई है । कमलनाथ की सरकार के तीन माह के कार्यकाल में किसानो, युवाओं, व्यापारियों एवं आमजनों को परेशान हो ना पड रहा है । कांग्रेस की सरकार ने भाजपा शासनकाल मे शिवराज सिंह चैहान द्वारा लागू की गई कइ कल्याणकारी एवं जनहितैशी योजनाओं को बंद कर दिया है । किसानों के 2 लाख के कर्ज मुक्ति के नाम पर किसानों को ठगा गया है, बेरोजगारों को 4 हजार रुपया प्रति माह के मान से दिये जाना वाला बेरोजगारी भत्ता केवल छलावा साबित हुआ है । युवाजन इसे लेकर काफी आक्रोशित है।शर्मा ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार के 60 महीनें के कार्यकाल मे जितना लाभ आम लोगों को मिला है इतना तो कांग्रेस की 60 साल की सरकार में भी नही मिल पाया था । उन्होने देश की सुरक्षा एवं देश के विकास के लिये आगामी 19 मई को होने वाले चुनाव में कमल चुनाव चिन्ह पर अपना वोट देकर केन्द्र में मोदीजी के नेतृत्व में फिर से सरकार बनाने का आव्हान करते हुए कांग्रेस पर तंज कसा कि कांग्रेस सरकार तो कश्मीर को देश से तोडने वाली सरकार होगी, आतंकवाद को बढावा देने वाली सरकार होगी इसलिये इससे सावधान रह कर सिर्फ भाजपा को ही समर्थन देकर केन्द्र में नरेन्द्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प हम सभी को लेना है ।क्षैत्रीय विधायक गुमानसिंह डामोर ने इस अवसर पर कमलनाथ सरकार के भृष्ट कारनामों का जिक्र करते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव के समय कांग्रेस ने प्रदेश की जनता को गुमराह करते हुए,भ्रम फैलाकर सिर्फ वोट हासिल करने के लिए किसानो को कहा था कर्जा माफ करने का, युवाओ के लिए कहा था 4 हजार रूपये महिना बेरोजगारी भत्ता मिलेगा, पुलिस विभाग मे काम करने वाले पुलिस कर्मियो को सप्ताह में एक दिन छुट्टी देने का वादा, प्रदेश में सभी अवैध कालोनियो को वैध करने का वादा, प्रदेश को अपराध मुक्त बनाने जैसे बडे – बडे वादे कर भोली भाली जनता से वोट तो ले लिये लेकिन उनसे किये गये एक भी वादे को पूरा नही किया गया, सिर्फ लालीपाप देकर बैठा दिया गया।विधायक ने कहा कि सरकार के द्वारा हम सभी को घोषणाओं के नाम पर किस तरह लालीपाप दी गई । गुमानसिंह डामोर ने कहा कि कांग्रेस बेईमान है। उसे देश और उसके विकास से कोई मतलब नहीं है। उसे देश की जनता से कोई लेना देना नहीं है। क्या कांग्रेस के किसी मुख्यमंत्री को कभी खेतों में देखा है? कांग्रेस के नेता महलों में रहकर राजनीति करते हैं। इसलिए प्रदेश की जनता लोकसभा चुनाव में उसे सबक सिखाएगी। उन्होंने कहा कि पूरे लोकसभा क्षेत्र में पिछले 15 सालों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने जो काम किया है, कांग्रेस उसका दसवां हिस्सा भी नहीं कर सकी है। उन्होंने कहा कि सड़क, बिजली, पानी की बात हो, या फिर स्कूल-कलेज शुरू करने की, हमने विकास में कोई कसर नहीं रखी। उन्होंने कहा कि विकास के क्षेत्र में हमारी उपलब्धियां गर्व करने लायक हैं।पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल ने भी कांग्रेस की कमलनाथ सरकार को भृष्ट शिरोमणी सरकार निरूपित करते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश के लोगों को बड़े सपने दिखाए। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने साढ़े तीन महीने हो गए हैं। कांग्रेस ने कहा था- चुनाव हो जाने दो सोयाबीन के 500 रुपए क्विंटल देंगे। लेकिन किसी किसान को मिला क्या? उन्होंने मूंग के पैसे नहीं दिए, उड़द के पैसे नहीं दिए, और अब आप देखना गेहूं में भी सरकार को पसीना आ जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार की वादा खिलाफी के चलते किसान बेहाल है । विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी कहते थे कि 10 दिन में कर्ज माफी कर देंगे। अगर नहीं हुई, तो ग्यारहवें दिन मुख्यमंत्री बदल दूंगा। इस हिसाब से अब तक 11 मुख्यमंत्री बदल देना चाहिए था। कर्ज माफी हुई नहीं और राहुल कहते हैं हमने दो घंटे के अंदर कर्ज माफ कर दिए। पूर्व विधायक ने कहा कि कमलनाथ कहते हैं, चुनाव के बाद प्रदेश के किसानों पर 48 हजार करोड़ का कर्ज था, लेकिन सरकार ने कर्जमाफी के लिए बजट में सिर्फ 5 हजार करोड़ का प्रावधान किया। इसमें से भी बैंकों को सिर्फ 1300 करोड़ दिया। इतने पैसे में कैसे कर्ज माफ होगा। अब प्रदेश के किसान घूम रहे हैं। कर्ज बाकी रहा, तो किसान डिफाल्टर होंगे, परेशान होंगे और उनकी इस बर्बादी के लिए राहुल गांधी और कमलनाथ जिम्मेदार हैं। कांग्रेस ने प्रदेश के हर वर्ग के लोगों से धोखा किया है। उन्होंने किसानों को छला है, बेरोजगारों के साथ धोखा किया है। चुनाव से पहले कांग्रेस ने नौजवानों से कहा था कि 4 हजार रुपए महीने बेरोजगारी भत्ता देंगे। लेकिन आप बताइये किसी नौजवान को भत्ता मिला क्या ? कांग्रेस ने रोजगार देने की बात कही थी, लेकिन अब रोजगार देने के नाम पर मवेशी चराने की बात कर रहे हैं। बैंड बजाने की बात कर रहे हैं। उन्होने कहा कि कांग्रेस सुन ले, अगर प्रदेश की जनता के साथ अन्याय हुआ, तो हम चुप नहीं बैठेंगे। हम सड़कों पर लड़ाई लड़ेंगे और सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। बिलवाल ने कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड को लेकर भी कहा कि कांग्रेसी सांसद कांतिलाल भूरिया जब केन्द्र में मंत्री थे तब उनके ओएण्सडी रहे प्रवीण कक्कड ने उनके साथ पाटर्नर करके 281 करोड का घोटाला किया है । अभी तक एक ही व्यक्ति पकड मे आया है ऐसे कई लोगों के तार दिल्ली तक जुडे हुए है । मोईनखान का जिक्र करते हुए उन्होने कहा कि एहमद पटेल उनके घर तक पहूंचे थे । बिलवाल राफेल जेसे मुद्दे में राहूलगांधी के बयानों पर तंज कसते हुए कहा कि जो अभी जमानत पर चल रहे है वे ही लोग मोदी की विवसनीयता पर सवाल उठा रहे है ।इस अवसर पर जिला महामंत्री प्रवीण सुराणा ने भी कांग्रेस के 281 करोड के भृष्टाचार का जिक्र करते हुए कहा कि यह वही राशि है जो बच्चों के भोजन के लिये दी गई हे उसमे भी कांग्रेस ने भृष्टाचार करके उनके निवाले छिनने का काम किया है ।उन्होने कमलनाथ सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री पर वे मुकदमा लगाने का प्रयास कर रहे है । राहूल गांधी के 72 हजार की राशि दिये जाने की न्याय योजना पर भी उन्होनें आरोप लगाते हुए इसे केवल लोगों को भ्रमित करने का ही कृत्य बताया । उन्होने की कहा कि लोकसभा के ये चुनाव राष्ट्र भक्तो एवं राष्ट्र द्रोहियो के बीच का चुनाव हो रहा है इसमे राष्ट्र को सर्वोपरी मानने वाले सभी देश भक्त मोदीजी को फिर से प्रधानमंत्री देखना पसंद करते है। इस अवसर पर नगर मंडल अध्यक्ष बबलु सकलेचा ने भी अपने संबोधन में प्रदेश की कमलनाथ सरकार द्वारा जनहितैशी योजनाओं को बंद करने का आरोप लगाते हुए पूरी कांग्रेस सरकार को भृष्ट एवं निकम्मी सरकार बताया । उन्होने प्रवीण कक्कड सहित कमलनाथ के करीबियों के भृष्ट कारनामों का भी विस्तार से जिक्र किया
इस सभा को भवरसिंह बिलवाल, कल्याणसिंह डामोर,गुमानसिंह गुण्डिया, भूपेश सिंगोड, ईरशाद कुर्रेशी,पार्षद अजय सोनी, विजय चैहान, हरू भूरिया, छितूसिंह मेडा, ने भी संबोधित किया । संभा का सफल संचालन अजय पोरवाल ने किया तथा आभार प्रर्दशन कीर्ति भावसार ने माना । इस अवसर पर भाजपाईयों ने कमलनाथ एवं कांग्रेस सरकार के भृष्टाचार को लेकर जमकर नारे बाजी भी की ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here