बेटियों की सुरक्षा के लिए शिवराज सिंह चौहान करेंगे गैर राजनीतिक आंदोलन

0
98

भोपाल: पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों से बेटियों को बचाने के लिए गैर राजनीतिक आंदोलन करने का ऐलान किया है। राज्य में हुई दुष्कर्म व हत्या की घटनाओं के बाद शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को इसका एलान किया।

गौरतलब है कि हाल ही में राजधानी में नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद कमलनाथ सरकार की खूब किरकिरी हुई थी। इस घटना को लेकर राजनीति गरमा गई थी और इस तरह की घटनाओं को कैसे रोका जाए, इस पर मंथन के लिए बीजेपी ने शनिवार को भोपाल में बैठक रखी थी। इस बैठक में तय किया गया कि भोपाल में हर मोहल्ले में मोहल्ला समिति बनाई जाएगी। शिवराज सिंह ने इस दौरान बयान दिया कि वो जिस दिन भी भोपाल में रहेंगे एक मोहल्ले में जरूर जाएंगे।इसके साथ ही शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में चल रहे हुक्का लाउंज बंद कराने पर भी जोर दिया।

उन्होंने कहा कि दरिंदों को जल्द फांसी पर लटकाने के लिए भारत के मुख्य न्यायमूर्ति को भोपाल से एक लाख पोस्ट कार्ड लिखे जाएंगे, जो 7 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायमूर्ति को भेजे जाएंगे। इस दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ये आंदोलन सरकार के खिलाफ नहीं होगा, बल्कि सामाजिक आंदोलन होगा और हमारी अपील है कि इसमें सूबे के मुख्यमंत्री कमलनाथ भी शामिल हों।

उन्होंने कहा कि बेटियों को बचाने के लिए अपराधी प्रवृत्ति के व्यक्तियों पर नजर रखनी होगी। बेटियों की आबरु बचाने के लिए सामाजिक आंदोलन चलाना पड़ेगा। रेपिस्टों को फांसी पर लटकाने का प्रावधान होना चाहिए। ऐसे कानून बनने चाहिए जिससे अपराधियों को जल्द से जल्द सजा मिल जाए। शिवराज ने बेटी बचाओ मार्च निकालने की रणनीति बनाने की भी जानकारी दी। उन्होंने बेटियों के सम्मान में हर घर से लोगों को निकालने की अपील की। शिवराज ने लोगों के साथ बेटी बचाओ मार्च निकालने का ऐलान किया। भोपाल से ये आंदोलन पूरे प्रदेश में ले जाए जाने की रणनीति भी बनाई गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here