सिंगाजी थर्मल प्लांट की राख बनी मुसीबत, 4 में से 3 यूनिट हुए बंद

0
60

खंडवा: जिले में पावर हब से मशहूर सिंगाजी थर्मल पावर प्लांट अब गांव वालों के लिए परेशानी की कारण बन गया है। जिसके चलते थर्मल पावर की चार में से 3 यूनिट में बिजली उत्पादन ठप्प हो गया है। जिसकी एक बड़ी वजह यूनिट में से निकलने वाली राख है। जिसके रख रखाव की विशेष प्रावधान नहीं है। किसानों के खेत राख से भर जाते है जिससे किसानों को भारी नुकसान का उठाना पड़ता है। किसानों के खेत राख से भर जाते हैं जिससे फसलों को भारी क्षति पहुंच रहा है।

जानकारी के अनुसार, सिंगाजी थर्मल पावर प्लांट में कोयले से बिजली बनाई जाती है। यह कोयला राख में तब्दील होने के बाद, पाइप लाइन के माध्यम से डिस्चार्ज किया जाता है। लेकिन ठीक से रखरखाव न होने के कारण तीन यूनिट बंद हो गई है। लापरवाही का आलम ये है कि जहां ये राख डम्प की जाती है। वहां पानी का समुचित बहाव नहीं होने के कारण यह राख उड़कर किसानों के खेत में पहुंच जाती है। जिस कारण किसानों की फसले भी खराब हो जाती है जिसके चलते स्थानीय किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

बता दें कि, सिंगाजी थर्मल पावर प्लांट में चार यूनिट के जरिए 2520 मेगावाट बिजली बनाने का काम चलता है. लेकिन पिछले एक सप्ताह से पावर प्लांट की चार में तीन इकाई पूरी तरह से बंद हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here