महरौली हत्याकांड: आरोपी शिक्षक ने बताया, कैसे पत्नी और बच्चों को उतारा था मौत के घाट

0
34

नई दिल्ली: दिल्ली के महरौली इलाके में पत्नी व तीन बच्चों की निर्मम तरीके से गला काटकर हत्या करने वाला कैमिस्ट्री शिक्षक उपेंद्र शुक्ला इतना क्रूर हो गया था इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वह चार हत्याओं को अंजाम देने के बाद करीब छह घंटे तक शवों के साथ बंद कमरे में बैठा रहा। फर्श पर चारों ओर खून बिखरा था। उपेन्द्र के सारे कपड़े खून से सने थे और उसके चेहरे पर भी खून लगा था।

आधी रात को दिया आरोपी ने हत्याओं को अंजाम
पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपी ने बताया कि खाना खाने के बाद वह अपने कमरे में आकर देर रात तक लैपटॉप पर कुछ काम करने लगा। इस दौरान अर्चना अपने तीनों बच्चों को लेकर बिस्तर पर सोने के लिए चली गई। बच्चों और पत्नी के सोने के बाद करीब 1 बजे उसने सोते वक्त पहले पत्नी अर्चना पर हमला किया।  हमले के दौरान वह छटपटाती रही और उपेन्द्र से बचने का प्रयास करती रही। इसी के चलते वह बिस्तर से नीचे गिर गई लेकिन उपेन्द्र ने उसे नहीं छोड़ा। इसके बाद उसने एक-एक कर कलेजे के टुकड़े तीन बच्चों का भी बिस्तर पर ही गला रेत डाला। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी ने 1 बजे से लेकर 1.30 बजे तक सभी हत्याओं को अंजाम दिया था।

अपनी मौत देख डर गया उपेन्द्र
पुलिस अधिकारी ने बताया कि उपेन्द्र के बाएं हाथ की कलाई पर दो जगह कट के निशान बने हुए हैं। पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि उसने पत्थर काटने की मशीन से आत्महत्या करने के लिए दो बार अपने हाथ काटने की कोशिश की लेकिन मशीन चलने के बाद होने वाले दर्द से वह सहम गया और थोड़ा-सा हाथ कटने के चलते निकले खून से वह डर गया जिसके बाद उसने मशीन को साइड में फैंक दिया और फिर दीवार के सहारे बैठ गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here