वैश्विक समस्याओं का समाधान आसान नहीं, फिर भी देना चाहूंगा पांच प्रमुख सुझावः पीएम मोदी वैश्विक समस्याओं का समाधान आसान नहीं, फिर भी देना चाहूंगा पांच प्रमुख सुझावः पीएम मोदी

0
46

पीएम मोदी ने कहा, ‘वैश्विक समस्याओं का समाधान आसान नहीं है, लेकिन मैं पांच प्रमुख सुझाव देना चाहूंगा।’ उन्होंने कहा कि ब्रिक्स के सदस्य देशों के बीच प्रभावी और सहज समन्वय होना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमें बहुपक्षीय संबंधों के लिए काम करना चाहिए और विश्व व्यापार और वित्तीय निकायों में सुधार होना चाहिए।’  उन्होंने कहा, ‘विकास जारी रखने के लिए, तेल और गैस को किफायती मूल्यों पर उपलब्ध कराया जाना चाहिए। साथ ही कुशल कर्मचारियों की आवाजाही को सरल और सुगम बनाया जाना चाहिए।’

ब्रिक्स नेताओं- ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो, रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, पीएम नरेन्द्र मोदी, चीन के  राष्ट्रपति शी जिनपिंग और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने यहां जी-20 शिखर सम्मेलन की अनौपचारिक बैठक से पहले सामूहिक फोटो भी खिंचवाई। पीएम मोदी ने अपने संबोधन में दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा को फिर से चुनाव जीतने के लिए बधाई दी। प्रधानमंत्री ने कहा कि ब्रिक्स नेताओं – ब्राजील, रुस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के बीच यह अनौपचारिक बैठक पांच सदस्य देशों को जी -20 शिखर सम्मेलन के विचार-विमर्श में भाग लेने के दौरान सही संतुलन और समझ बनाए रखने में मदद करेगी।

पीएम मोदी ने मौजूदा समय में अंतरराष्ट्रीय समुदाय के समक्ष तीन प्रमुख चुनौतियों का उल्लेख करते हुए कहा ये हैं – वैश्विक आर्थिक मंदी, नियम आधारित बहुपक्षीय व्यापार से संबंधित मामले और विकास को संतुलित और स्थायी प्रक्रिया  बनाने के लिए। पीएम मोदी ने पुतिन और जिनपिंग की मौजूदगी में कहा, ‘जलवायु परिवर्तन न केवल हमारे समय की एक चुनौती है बल्कि यह आने वाली पीढ़ी के लिए भी गंभीर चिंता का विषय है।’ उन्होंने कहा, ‘विकास सच्चा विकास और प्रभावी तभी है जब यह असंतुलन को दूर करता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here