‘तिरंगा नहीं उठाने’ वाले बयान पर महबूबा मुफ्ती के खिलाफ शिकायत दर्ज, भाजपा ने की गिरफ्तारी की मांग

0
11

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष और जम्मू की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के खिलाफ दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। मुफ्ती ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि वह तिरंगा झंडा तभी थामेंगी जब जम्मू कश्मीर को पूर्ववर्ती राज्य का झंडा वापस मिल जाएगा। भाजपा ने इस “देशद्रोही” बयान के लिए मुफ्ती की गिरफ्तारी की मांग की थी।

सुप्रीम कोर्ट के वकील ने दी शि​​कायत 
सुप्रीम कोर्ट के वकील विनीत जिंदल ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से महबूबा के खिलाफ नेशनल ऑनर एक्ट समेत आईपीसी की धारा 121, 151, 153A, 295, 298, 504, 505 के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है। मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा कि जब तक जम्मू-कश्मीर को लेकर पिछले साल पांच अगस्त को संविधान में किए गए बदलावों को वापस नहीं ले लिया जाता, तब तक उन्हें चुनाव लड़ने अथवा तिरंगा थामने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

रिहा होने के बाद महबूबा ने दिया विवादित बयान 
जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को पिछले वर्ष अगस्त में समाप्त किए जाने के बाद से महबूबा हिरासत में थीं। रिहा होने के बाद पहली बार मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह तभी तिरंगा उठाएंगी, जब पूर्व राज्य का झंडा और संविधान बहाल किया जाएगा।

भाजपा ने किया विरोध 
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रवींद्र रैना ने इस बयान का विरोध करते हुए कहा कि मैं उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से अनुरोध करता हूं कि वह महबूबा मुफ्ती के देशद्रोही बयान का संज्ञान लें और उन्हें सलाखों के पीछे डालें। उन्होंने कहा कि भाजपा ने कहा कि “धरती की कोई ताकत” अनुच्छेद 370 को वापस नहीं ला सकती।