अंबिकापुर से रायपुर जा रही बस पलटी, कई यात्री घायल

0
155

अंबिकापुर। अंबिकापुर-बिलासपुर मुख्य मार्ग में मेंड्राकला के पास शुक्रवार की रात बड़ी दुर्घटना टल गई। बताया जा रहा है कि अंबिकापुर से रायपुर जाने वाली गुप्ता बस रात 9.30 बजे प्रतीक्षा बस स्टैंड से निकली थी। शहर से महज 10-11 किलोमीटर बस पहुंची थी, तभी मेंड्राकला में पुल निर्माण स्थल से 10-15 मीटर के फासले पर लगभग 10.15 बजे सामने से आ रही वाहन को साइड देते समय बस का चक्का चिकनी मिट्टी में खिंचाया और अनियंत्रित बस पलटते बची।

बस में 60 से अधिक सवार बताए जा रहे है। स्लीपर बस होने के कारण कई यात्री सो रहे थे, जो बस के एक ओर झुकने से नीचे गिर पड़े। हालांकि किसी को गंभीर चोटें नही आई थी, जिससे किसी को अस्पताल में दाखिल करने की नौबत नही बनी।

सूचना मिलने पर पुलिस पेट्रोलिंग में निकले मणिपुर पुलिस चौकी प्रभारी प्रमोद कुमार यादव, प्रधान आरक्षक प्रवीण राठौर, आरक्षक दिवाकर मिश्रा पहुंचे और आसपास मौजूद लोगों के साथ बस में सवार यात्रियों को बाहर निकालने में लग गए।

इस बीच एक ओर काफी झुकी बस के पलटने की संभावना को लेकर यात्री हलाकान रहे। बस में सवार यात्रियों के पूरी तरह सुरक्षित बाहर नही निकलने तक कोहराम मचा रहा।

सूचना पर मौके पर एम्बुलेंस पहुंची लेकिन सभी यात्रियों के सकुशल रहने से इन्हें अस्पताल लाने की स्थिति नही बनी। कुछ यात्रियों को सामान्य चोट आई थी, लेकिन वे अस्पताल आने को तैयार नही थे। पुलिस ने बाद में दूसरी बस को मौके पर बुलाया और लगभग 12 बजे यात्री गंतव्य के लिए रवाना हुए।

15 मीटर पहले हो सकता था बड़ा हादसा

मणिपुर चौकी प्रभारी ने बताया कि जहां बस् मिट्टी में धंसी उससे महज 10 से 15 मीटर दूरी पर पुल निर्माण के लिए गहरा गड्ढा खोदा गया है। इसका बेस बनाने छड़, रॉड लगाए गए हैं। अगर यहाँ बस अनियंत्रित हुई होती तो बस को गड्ढे में जाने से कोई नही रोक सकता था और बड़ी क्षति हो सकती थी।

बरसात में खरतनाक हुआ सड़क मार्ग

अंबिकापुर-बिलासपुर मुख्य मार्ग के निर्माण के साथ ही पुल पुलिया का निर्माण चल रहा है। बीच-बीच में हो रही बारिस के कारण मिट्टी गीली हो गई है। कई जगह मिट्टी के जमा रहने और पटाव से वाहन चालकों को इसका आभास ही नही हो पाता कि उन पर खतरा मंडरा रहा है। साइड देते समय अचानक चक्के के स्लिप होने से बड़ी वाहनों के धंसने की स्थिति बन जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here