क्रिकेट वर्ल्ड कप में सट्टेबाजी के गोरखधंधे का भंडाफोड़, 9 सटोरियों का चेहरा बेनकाब

0
77

मुरैना: मुरैना जिले के कैलारस थाना क्षेत्र में क्रिकेट वर्ल्डकप पर सट्टेबाजी कर रहे एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है। मुरैना की क्राइम ब्रांच तथा थाना पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में दिलीप सिंघल नाम के व्यक्ति के घर पर दबिश दी गई। जिसमें 9 लोग सट्टा खेलते रंगे हाथों पकड़े गए। आरोपियों से 45 मोबाइल,5 लैपटॉप,1 एलईडी ओर 2 लाख से अधिक की नगदी मिली है जिनकी कीमत 6 लाख से अधिक है।

जानकारी के अनुसार, मुरैना क्राइम ब्रांच को मुख़बिर से सूचना मिली कि कैलारस थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले कॉलेज रोड़ स्थित दिलीप सिंघल के मकान में क्रिकेट सट्टा चल रहा है, जिसपर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच ने सिंघल के घर छापा मारा। जिसमें वर्ल्डकप के मैच पर सट्टा लगाया जा रहा था, मौके से क्राइम ब्रांच की टीम ने 5 लैपटॉप, 41 मोबाइल फोन, एक एलईडी टीवी, 207864 नगद रुपए, नोट गिनने की मशीन, लाखों का लेखा जोखा के दस्तावेज सहित 9 आरोपियों को पकड़ा।

आरोपियों में बसपा से नगर परिषद का चुनाव लड़ चुकी पूनम गर्ग के पति नीरज गर्ग पुत्र वासुदेव गर्ग उम्र 34 वर्ष निवासी कैलारस, दिलीप सिंघल पुत्र अमरलाल सिंघल उम्र 44 वर्ष निवासी कैलारस (कांग्रेस नेता अन्नो उर्फ़ अरुण सिंघल के चचेरे भाई एवं शंकर सिंघल कांग्रेस नेता के भतीजे), सौरभ मित्तल पुत्र रामकुमार मित्तल उम्र 29 निवासी कैलारस, कपिल मित्तल पुत्र रामकुमार मित्तल उम्र 21 वर्ष निवासी कैलारस, गिर्राज मंगल पुत्र मुन्ना मंगल उम्र 42 वर्ष निवासी जौरा, मोनू शर्मा पुत्र रामकुमार उम्र 28 वर्ष निवासी सबलगढ़, अविनाश शर्मा पुत्र रामनरेंद्र शर्मा उम्र 29 वर्ष निवासी सबलगढ़, आकाश शर्मा पुत्र महेंद्र शर्मा उम्र 31 वर्ष निवासी झुंडपुरा को मौके से क्राइम ब्रांच टीम ने पकड़ कर कैलारस पुलिस थाना लेकर आई। हालांकि इस कार्रवाई के 5 घंटे बाद इस मामले की जानकारी मीडिया को दी गई। जिसमें स्थानीय कैलारस थाना के प्रभारी नरेंद्र शर्मा ने कुछ लोगों को कार्रवाई से बाहर कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here