राहुल गांधी से आज मिलेंगे कई राज्यों के मुख्यमंत्री, इस्तीफे को लेकर हो सकती है चर्चा

0
81

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह सहित कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ बैठक होगी। नई दिल्ली में होने वाली इस बैठक में राहुल गांधी के इस्तीफे पर विचार हो सकता है। इस बैठक को एक रस्मी बैठक बताया जा रहा है जिसमें राहुल गांधी पांच राज्यों के मुख्यमंत्रियों को अपनी शुभकामनाएं दे सकते हैं।

मालूम हो कि राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है लेकि न हाईकमान ने उसे मंजूर नहीं किया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस शासित राज्यों पंजाब, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई है। पार्टी सूत्रों के अनुसार इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे पर विचार-विमर्श किया जाएगा और पांचों राज्यों के मुख्यमंत्री एक बार फिर सामूहिक रूप से उन पर इस्तीफा वापस लेने का दबाव डालेंगे।

राहुल गांधी के साथ इन पांचों मुख्यमंत्रियों की बैठक को बेहद महत्वपूर्ण बताया जा रहा है और इस बात की पूरी संभावना है कि इसके बाद आल इंडिया कांग्रेस कमेटी के संगठन में बड़ा फेरबदल होगा। इसे रस्मी बैठक बताया जा रहा है और यह कहा जा रहा है कि बैठक के दौरान राहुल गांधी इन पांचों मुख्यमंत्रियों के साथ अब तक किए गए कामकाज और सरकार को बेहतर ढंग से चलाने के लिए उन्हें शुभकामनाएं देंगे। बैठक का कोई आधिकारिक एजैंडा तय नहीं है लेकिन पार्टी सूत्रों का कहना है कि सोमवार की बैठक को लेकर पांचों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने आपस में पहले ही सलाह कर यह फैसला लिया है कि बैठक के दौरान राहुल गांधी से इस्तीफे पर पुनर्विचार के लिए दबाव बनाया जाए।

बैठक में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह, मध्य प्रदेश के कमलनाथ, राजस्थान के अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल और पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायमसामी हिस्सा लेंगे। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह सोमवार सुबह फिर दिल्ली के लिए रवाना हो रहे हैं। पंजाब कांग्रेस प्रभारी आशा कुमारी ने स्पष्ट कहा कि बैठक का कोई आधिकारिक एजैंडा नहीं है। बैठक में लोकसभा चुनाव या राज्य सरकारों के काम की समीक्षा होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि बिना प्रभारी के पार्टी में ऐसी बैठकों का प्रावधान नहीं है। चूंकि यह मुख्यमंत्रियों की बैठक है, लिहाजा अभी स्पष्ट रूप से कुछ नहीं का जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here