पहले TTE टालता रहा, टि्वटर पर रेलमंत्री से शिकायत की तब भोपाल में भरा ट्रेन में पानी

0
76

भोपाल। अमृतसर से मुंबई जा रही अमृतसर-मुंबई छत्रपति शिवाजी एक्सप्रेस में पानी खत्म हो गया था। यात्री चार घंटे तक परेशान होते रहे। टीटीई से शिकायत की। वह अगले स्टेशनों पर पानी भरने का भरोसा देता रहा। तब भी ट्रेन में पानी नहीं भरा गया। इस पर यात्री नाराज हो गए। उन्होंने टि्वटर पर रेलमंत्री पीयूष गोयल से शिकायत कर दी। तब जाकर अधिकारी हरकत में आए और ट्रेन के भोपाल पहुंचने पर पानी भरा गया। मामला सोमवार का है। ट्रेन में ललितपुर के पास सुबह 7 बजे पानी खत्म हुआ था, चार घंटे बाद सुबह 11 ट्रेन के भोपाल पहुंचने पर पानी भरा गया।

यात्री अजीत श्रीवास्तव ट्रेन के कोच एस-1 की 45 नंबर बर्थ पर जलगांव की यात्रा कर रहे थे। यात्री ने बताया कि उन्होंने सबसे पहले टीटीई स्टाफ को पानी खत्म होने की सूचना दी थी। तब कहा गया कि बीना स्टेशन पर पानी भर दिया जाएगा। ट्रेन सुबह 8.40 बजे बीना पहुंची। लेकिन पानी नहीं भरा गया और कह दिया गया कि बीना स्टेशन पर पानी नहीं है। इस तरह ट्रेन भोपाल के लिए निकल गई। इसके बाद रेलमंत्री को सुबह 9.05 बजे शिकायत की गई। इसके बाद भोपाल स्टेशन पर कोच में पानी भरा गया।

एसी फेल व पानी खत्म होने की शिकायतों पर तुरंत सुनवाई नहीं, यात्री परेशान 

भोपाल से होकर गुजरने वाली ट्रेनों में पानी खत्म होने और एसी फेल होने की शिकायतें का तुरंत निराकरण नहीं हो रहा है। यात्री एक से दूसरे-तीसरे स्टेशन तक परेशान होते हैं, तब जाकर सुनवाई हो रही है। अमृतसर-मुंबई छत्रपति शिवाजी एक्सप्रेस में भी यही हुआ। ललितपुर और बीना में पानी नहीं भरा गया, जब यात्री ने रेलमंत्री को शिकायत की तब भोपाल में पानी भरा गया। ट्रेनों के कोच में एसी फेल होने की घटनाओं में भी ऐसा ही हो रहा है। रविवार को गोंडवाना एक्सप्रेस का एसी इटारसी के पहले से फेल हुआ था। लेकिन इटारसी में ठीक नहीं किया गया। यहां तक की बिना एसी ठीक हुए ट्रेन भोपाल से भी निकल गई थी, तब यात्रियों ने चेनपुलिंग कर ट्रेन रोक ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here