अगर आप भी गूगल मैप्स के जरिए देखते हैं रास्ता, तो पहले पढ़ लें ये खबर

0
53

नई दिल्लीः अनजान रास्तों में किसी तरह की दिक्कत न हो, इसके लिए हम अक्सर गूगल मैप्स का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन, करीब 100 ड्राइवर्स को गूगल मैप्स पर ‘भरोसा’ उस समय भारी पड़ गया, जब वह ऐसी जगह में फंस गए, जहां से निकलना मुश्किल भरा था। गूगल मैप्स के सहारे चल रहे इन ड्राइवर्स को मैप्स ने ऐसे सिंगल रूट में आगे बढ़ा दिया, जो कीचड़ से भरा था और उस रूट से वापस लौटना मुमकिन नहीं था। इन रास्ते में इनकी गाड़ियां घंटों फंसी रहीं।

यह मामला कोलोराडो का है। असल में डेनवर एयरपोर्ट जाने वाली मेन सड़क पर एक हादसा हो गया। ऐसे में इस रास्ते पर चल रहे लोगों को गूगल मैप्स ने वैकल्पिक रूट दिया। गूगल मैप्स ने इस रूट के जरिए एयरपोर्ट पहुंचने का टाइम भी मेन रूट के मुकाबले आधा दिखाया, जहां मेन रूट से एयरपोर्ट पहुंचने का टाइम 43 मिनट दिखा रहा था। वहीं, वैकल्पिक रूट से 23 मिनट का रास्ता दिखा रहा था। गूगल मैप्स पर भरोसा करके लोग वैकल्पिक रास्ते में बढ़ गए ताकि वह कम समय में बिना जाम में फंसे एयरपोर्ट तक पहुंच सकें।

लग गई गाड़ियों की लंबी कतार

शुरुआत में वैकल्पिक रास्ता ठीक था, लेकिन कुछ किलोमीटर बाद कीचड़ भरे रास्ते की शुरुआत हो गई। आलम ये हो गया कि एक लाइन में चल रही गाड़ियां अलग-अलग स्लाइड करने लगीं। चूंकि, यह सिंगल रूट था, इसलिए गाड़ियों का वापस लौटना भी संभव नहीं हो पा रहा था। ऐसे में गाड़ियों की एक लंबी कतार लग गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here