सियासी संकट के बीच बोले CM कुमारस्वामी- मैं क्यों दूं इस्तीफा ?

0
41

बेंगलुरू। कर्नाटक में लंबे समय से जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने एक बड़ा बयान देकर सबकों चौंका दिया है। कर्नाटक में 16 कांग्रेस-जेडी(एस) बागी विधायकों को लेकर जूझ रही पार्टी से आने वाले सीएम कुमारस्वामी ने पूछा है कि क्यों उन्हें अपना पद छोड़ना चाहिए ? क्यों मैं इस्तीफा दूं ? क्या जरूरत है कि मैं अभी  इस्तीफा दूं ? कुमारस्वामी ने यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, क्योंकि इस बात का अंदेशा जताया जा रहा था कि इस संकट के मद्देनजर वह अपने कागजात में अपनी गठबंधन सरकार को गिराने की कगार पर है।

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार संघर्ष करेगी क्योंकि उनके पास पर्याप्त विधायक हैं। कदम पीछे खींचने के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘मुझे अभी इस्तीफा देने की क्या जरूरत है।’ इस दौरान उन्होंने कर्नाटक के पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा (BS Yeddyurappa) का उदाहरण भी दिया। कुमारस्वामी ने कहा, ‘2009-10 में जब येदियुरप्पा सीएम थे तब 8 मंत्रियों समेत 18 विधायक उनके विरोध में थे।आखिर में क्या हुआ  येदियुरप्पा ने इस्तीफा नहीं दिया था।

बीती रात को रिपोर्ट मिली थी कि कुमारस्वामी ने गुरुवार को कैबिनेट की मीटिंग बुलाई है और वह इस्तीफा देने की तैयारी कर रहे हैं।इन अटकलों को कुमारस्वामी ने सिरे से नकार दिया।

स्पीकर भी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट
कर्नाटक के 10 बागी विधायकों की अपील पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस-जेडीएस के 10 बागी विधायकों से कहा है कि वे गुरुवार शाम 6 बजे कर्नाटक विधानसभा अध्‍यक्ष से जाकर मिलें और अपना निर्णय बताएं। इस दौरान अगर वे चाहें, तो अपना इस्‍तीफा दे सकते हैं। विधानसभा स्‍पीकर से कहा है कि वह विधायकों की बात को ध्‍यान से सुनें और अगर चाहें तो तुरंत निर्णय ले सकते। विधानसभा अध्‍यक्ष जो भी निर्णय लें, उससे सुप्रीम कोर्ट को शुक्रवार को अवगत कराया जाए। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने इन विधायकों को सुरक्षा प्रदान करने का भी निर्देश दिया है। ऐसे में कर्नाटक विधानसभा अध्‍यक्ष भी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं। उन्‍होंने ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर और वक्त की मांग की है। वहीं, वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से जब सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर टिप्‍पणी मांगी गई, तो उन्‍होंने कहा कि कोर्ट ने आदेश दे दिया है, निश्चित रूप से उसका पालन होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here