भारत-फ्रांस के बीच चल रहा युद्धाभ्यास ‘गरुड़ VI’ खत्म, एयरफोर्स ने दिखाया दमखम

0
92

मांट डी मार्सन। भारत और फ्रांस की वायु सेनाओं के बीच चल रहे युद्धाभ्यास ‘गरुड़ VI'(Garud VI) आज समाप्त हो गया। फ्रांस के मांट डी मार्सन हवाई अड्डे पर यह युद्धाभ्यास चल रहा था। एक जुलाई से चल रहे इस युद्धाभ्यास में दोनों देशों की वायुसेनाओं ने अपना दमखम दिखाया।

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

ANI

@ANI

: The sixth edition of Indo-French air exercise ‘Garuda’ at Mont De Marsan Air Base in France, came to an end today.

39 people are talking about this

‘राफेल है गेमचेंजर’

इससे पहले शुक्रवार को भारतीय वायुसेना के वाइस चीफ एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया ने फ्रांस में लड़ाकू विमान राफेल( Rafale) में उड़ान भरी। राफेल में उड़ान को वाइस चीफ एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया ने बेहतरीन अनुभव बताया है। उन्होंने कहा, ‘यह एक बहुत अच्छा अनुभव था।  यहां हमने राफेल से जुड़ी कई चीजें सीखी हैं, जैसे हम किस तरह राफेल का भारतीय वायुसेना में बेहतर उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा हम यह भी जानेंगे कि सुखोई-30 के साथ इसका संयोजन(Combination)किस तरह किया जा सकता है।’ वाइस चीफ एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया ने साथ ही कहा, ‘भारतीय वायुसेना में टेक्नोलॉजी और हथियार के रूप में राफेल गेमचेंजर साबित होगा। आने वाले सालों में यह आक्रामक मिशन और युद्ध जैसी स्थितियों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।’

राफेल और सुखोई का मेल बरपाएगा दुश्मन पर कहर

भारतीय वायुसेना की राफेल और सुखोई 30 एमकेआइ की संयुक्त कार्रवाई की योजना सफल रही तो वह पाकिस्तान समेत सभी दुश्मन देशों पर युद्ध में कहर बरपाएगी। यह बात भारतीय वायुसेना के वाइस चीफ एयर मार्शल  आरकेएस भदौरिया ने फ्रांस में चल ररहे गरुड़ 6 युद्धाभ्यास के मौके पर कही थी।

भारत-फ्रांस के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास

भारत और फ्रांस के इस युद्धाभ्यास में राफेल, मिराज-2000, सुखोई 30 जैसे लड़ाकू विमानों देखने को मिले। इस संयुक्त इंडो-फ्रेंच युद्ध अभ्यास में मिराज 2000, सुखोई 30 एमकेआई, अल्फा जेट और कासा विमान शामिल हुए लेकिन जिस विमान ने सबसे ज्यादा ध्यान आकर्षित किया उसका नाम था राफेल, जो जल्द ही भारतीय वायुसेना में शामिल होने वाला है।यह युद्भाभ्यास भारतीय वायुसेना के लिए राफेल जेट विमानों के बारे में ज्यादा जानने का अवसर प्रदान करने वाला रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here