चीन की घुसपैठ पर आर्मी चीफ का बयान, मामलें को सुलझा लिया गया है

0
40

नई दिल्लीः भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने चीन की घुसपैठ पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कोई घुसपैठ नहीं हुई थी और इस मामले को सुलझा लिया गया है। चीन के साथ फ्लैग मीटिंग के दौरान इस मुद्दे को उठाया गया था।

आपको बतां दे कि डोकलाम गतिरोध के 2 साल बाद चीन की सेना ने एक बार फिर से भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की है। चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी ने कुछ दिन पहले जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में पूर्वी डेमचोक इलाके में 6 किलोमीटर अंदर तक घुसपैठ की और अपना झंडा फहराया। चीन की सेना ने ऐसे समय पर घुसपैठ की है, जब स्थानीय निवासी तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा का जन्मदिन मना रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक डेमचोक की सरपंच ने चीन की सेना के घुसपैठ की पुष्टि की है। ये सैनिक सैन्य वाहनों में भर कर भारतीय सीमा में आए और चीन का झंडा फहराया। डेमचोक की सरपंच उरगेन चोदोन ने बताया कि चीन के सैनिक भारतीय सीमा में आए। उन्होंने बताया कि चीनी सैनिकों के डेमचोक में आने का मकसद कुछ और नजर आ रहा है।

घुसपैठ की गतिविधि को अंजाम दे भारत पर दबाव बढ़ाना चाहता है चीन 
सरपंच ने बताया कि चीन के सैनिक ऐसे समय पर इस इलाके में आए हैं जब स्थानीय लोग दलाई लामा का जन्मदिन मना रहे हैं। उरगेन ने बताया कि चीन के सैनिकों का डेमचोक में आना ङ्क्षचता की बात है। उन्होंने कहा कि चीन इस तरह की गतिविधि को अंजाम देकर भारत पर दबाव बढ़ाना चाहता है, ताकि अगर कभी बातचीत हो तो उस समय इस क्षेत्र पर अपना दावा किया जा सके। चीन यह कह सकता है कि वहां चीन का झंडा है और उसका टैंट है, ऐसे में यह इलाका उसका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here