भात झा का ट्विटर पर फिर छलका दर्द, लिखा- ‘कुछ लोग इंसान होते हुए भी खुद को भगवान मान लेते हैं’

0
85

भोपाल: बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल के पद से हटते ही राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा का दर्द छलका है। प्रभात झा ने इशारों-इशारों में ही रामलाल पर तंज कसते हुए लिखा है कि ‘कुछ लोग इंसान होते हुए भी अपने को भगवान मानने लगते हैं’। झा ने करीब आधा दर्जन ट्वीट कर कई नेताओं पर निशाना साधा है। जिसे लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई हैं। झा ने अपने ट्वीट्स में प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा को टैग किया है।

PunjabKesari, Madhya Pradesh, Bhopal news, BJP, Prabhat Jha, tweets, BJP Leader, PM Modi, Amita Shah, Congress, Jyotiraditya Scindia, Rahul Gandhi

प्रभात झा ने लिखा है कि ‘किसी के सम्मान के साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए, क्योंकि कल यह आपके साथ भी हो सकता है। अच्छा ‘संगठक’ वही होता है जो हर व्यक्ति को काम में जुटा ले, जिम्मेदारी का मतलब ‘मैं ही हूं’ का भाव नहीं होना चाहिए, जाही विधि राखे राम, ताहि विधि रहिए’ के भाव को समझकर अपना कार्य करना चाहिए।’ प्रभात झा ने कहा कि, ‘आप जो नहीं हैं, वैसा बनने के लिए कोशिश करें, लेकिन नाटक नहीं’ ‘दूसरों को कष्ट देने वालों को जब खुद कष्ट होता है तो उसे अपनी गलती समझ आती है’। हालांकि बीजेपी नेता ने अपने ट्वीट में किसी का नाम नहीं लिया है। लेकिन सवाल तो तब भी खड़े हो रहे हैं कि अगर झा ने किसी का नाम नहीं लिया है तो ये ट्वीट्स किए किसके लिए हैं

Prabhat Jha

@jhaprabhatbjp

ज्योतिरादित्य सिंधिया @JM_Scindia जी हारने के बाद आपका मार्गदर्शन गले नहीं उतर रहा। @RahulGandhi जी की जो आज दुर्दशा हो रही है उसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया का कम हाथ या योगदान नहीं है।@narendramodi @AmitShah @JPNadda @ChouhanShivraj @BJP4India @BJP4MP@INCMP @INCIndia

See Prabhat Jha’s other Tweets

सिंधिया पर भी साधा निशाना 
प्रभात झा ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया पर भी निशाना साधते हुए लिखा है कि ‘ज्योतिरादित्य सिंधिया जी हारने के बाद आपका मार्गदर्शन गले नहीं उतर रहा है। राहुल गांधी की जो आज दुर्दशा हो रही है उसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया का कम हाथ या योगदान नहीं है। ज्योतिरादित्य जी अगर आज सरदार वल्लभभाई पटेल होते, तो आप कहां होते?

प्रभात झा ने ये सारे ट्वीट्स किस पर निशाना साधते हुए किए हैं यह तो स्पष्ट नहीं। लेकिन इतना तो तय है कि लंबे समय से अपेक्षा के अनुरूप तवज्जो नहीं मिलने के कारण वे खुश नहीं हैं! वे लंबे समय से पार्टी में साइड लाइन में चल रहे हैं और हाल ही में हुए बदलाव के बाद से वे खुश नहीं दिखाई दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here